Gujarat Exclusive > देश-विदेश > एलएसी पर बदलाव मंजूर नहीं, टकराव से बढ़ा संघर्ष: जनरल बिपिन रावत

एलएसी पर बदलाव मंजूर नहीं, टकराव से बढ़ा संघर्ष: जनरल बिपिन रावत

0
330

चीन के साथ सीमा पर चल रहे तनातनी के बीच चीफ ऑफ डिफेंस स्टॉफ जनरल बिपिन रावत (General Bipin Rawat) ने कहा है कि पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर किसी भी हालत में बदलाव मंजूर नहीं होंगे क्योंकि सीमा पर हालात अभी भी तनावपूर्ण बने हुए हैं.

जनरल रावत (General Bipin Rawat) ने कहा कि हमारा रुख स्पष्ट है, हम वास्तविक नियंत्रण रेखा में कोई बदलाव स्वीकार नहीं करेंगे. जनरल रावत ने बताया, चीन की पीएलए लद्दाख में अपने दुस्साहस को लेकर भारतीय बलों की मजबूत प्रतिक्रिया के कारण अप्रत्याशित परिणाम का सामना कर रही है.

यह भी पढ़ें: लालू यादव को झटका, जमानत याचिका पर सुनवाई 27 नवंबर तक टली

न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक रावत (General Bipin Rawat) ने कहा, “लद्दाख में भारतीय सैनिकों को चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के दुस्साहस की वजह से ‘अप्रत्याशित परिणामों’ का सामना करना पड़ा. हमारी पोजीशन पर कोई सवाल नहीं है. हम वास्तविक नियंत्रण रेखा में किसी भी बदलाव को स्वीकार नहीं करेंगे.’

बिपिन रावत (General Bipin Rawat) ने नेशनल डिफेंस कॉलेज द्वारा आयोजित एक वेबिनार में ये बातें कहीं. उन्होंने कहा कि भारत और चीन ने मई में शुरू हुए लद्दाख में गतिरोध को हल करने के लिए सात दौर की सैन्य वार्ता की है. यह गतिरोध जून में तब और बढ़ गया जब गलवान घाटी में चीनी सैनिकों के साथ शारीरिक संघर्ष में देश के 20 जवानों की मौत हो गई थी.

आठवें दौर की बातचीत जारी

तनाव की स्थिति को कम करने के लिए सैन्यस्तर की बातचीत का सिलसिला जारी है. लद्दाख के चुशुल में एक बार कमांडर स्तर की वार्ता आयोजित की गई है. इसकी अगुवाई लेफ्टिनेंट जनरल पीजीके मेनन कर रहे हैं. पिछले सात दौर की बातचीत का अब तक कुछ खास सकारात्मक नतीजा सामने नहीं आया है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें