Gujarat Exclusive > देश-विदेश > UP: सरकारी दवा गोदाम में मिलीं 16 करोड़ की एक्सपायर दवाएं, डिप्टी CM ने तलब की रिपोर्ट

UP: सरकारी दवा गोदाम में मिलीं 16 करोड़ की एक्सपायर दवाएं, डिप्टी CM ने तलब की रिपोर्ट

0
151

उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री और स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा मंत्री ब्रजेश पाठक ने ट्रांसपोर्ट नगर स्थित सरकारी मेडिसिन सप्लाई कार्पोरेशन के गोदाम का औचक निरीक्षण किया. इस दौरान उन्हें वहां पर 16 करोड़ 44 लाख रुपए से अधिक की दवाइयां एक्सपायर मिलीं, जो अस्पतालों में समय पर भेजी ही नहीं गई थीं. गोदाम में दवा का जत्था मिलने के बाद ब्रजेश पाठक ने नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि मामले की जांच होगी और जिम्मेदारों को सख्त सजा मिलेगी.

सरकारी मेडिसिन सप्लाई कार्पोरेशन के गोदाम का औचक निरीक्षण के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए पाछन ने कहा कि जब हम उत्तर प्रदेश मेडिकल सप्लाई कॉर्पोरेशन के गोदाम पर गए, कंप्यूटर में जब एक्सपायर्ड दवाइयों की सूची निकाली गई तो पाया गया कि 16 करोड़ 44 लाख से ज्यादा की दवाईयां एक्सपायर्ड हो गई जो गोदाम में थी.

उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने आगे कहा कि वहां दवाईयों का रख-रखाव भी ठीक ढंग से नहीं किया जा रहा था. पूरे प्रकरण की जांच के लिए आदेश दिया गया है. हमने चिकित्सा विभाग सचिव को कहा है कि 3 दिन में इसकी प्राथमिक रिपोर्ट प्रस्तुत करें. जिसकी भी जिम्मेदारी तय होगी हम उसके ख़िलाफ कड़ी कार्रवाई करेंगे.

उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने औचक निरीक्षण के दौरान दवाइयों के गत्ते से खुद दवा निकाली और उसकी एक्सपायरी चेक किया जिसके बाद यह खुलासा हुआ. जिसके बाद पाठक ने अधिकारियों को फटकार लगाते हुए कहा कि जिनकी जिम्मेदारी है गोदाम से अस्पताल तक दवा पहुंचाने की वह अपनी जिम्मेदारी नहीं निभा रहा. ऐसे लोगों को खुद नौकरी छोड़ देनी चाहिए नहीं तो राज्य सरकार ऐसे अधिकारियों को घर बैठा देगी.

अपने लोगों को प्यासा मारकर उनको पानी की आपूर्ति करें, ये न्याय नहीं है: मनोहर लाल खट्टर