Gujarat Exclusive > गुजरात > जीएसईबी ने 9वीं से 12वीं स्टैंडर्ड के पाठ्यक्रम को 30% तक घटाया

जीएसईबी ने 9वीं से 12वीं स्टैंडर्ड के पाठ्यक्रम को 30% तक घटाया

0
214

GSEB Update: कोरोना महामारी के कारण स्कूलों के फिर से शुरू होने पर अनिश्चित की स्थिति बनी हुई है. ऐसे में गुजरात के शिक्षा विभाग ने शुक्रवार को सभी स्ट्रीम में स्टैंडर्ड 9 से 12 के सभी पाठ्यक्रम को 30% तक कम करने का निर्णय लिया.

गुजरात माध्यमिक और उच्चतर माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (GSEB) द्वारा जारी एक विज्ञप्ति के अनुसार, प्रश्न पत्र की शैली को बदलने का भी फैसला किया गया है. राज्य शिक्षा निकाय ने शैक्षणिक वर्ष 2020-21 के लिए पाठ्यक्रम में कटौती और प्रश्न पत्र की शैली को बदलने का फैसला किया है.

यह भी पढ़ें: गुजरात में कम हो रही कोरोना की आफत, 24 घंटे में 3 लोगों की मौत

बोर्ड (GSEB) के मुताबित, अब कॉमर्स स्ट्रीम में स्टैंडर्ड 9 से 12 तक 30% वस्तुनिष्ठ (ओब्जेक्टिव) प्रकार के प्रश्न होंगे. पहले प्रश्न पत्र में 20% सवाल वस्तुनिष्ठ प्रकार के होते थे.

वहीं कॉमर्स स्ट्रीम के उल्टा, साइंस स्ट्रीम के छात्रों के लिए प्रश्न पत्र की शैली में कोई बदलाव नहीं किया गया है. विज्ञान स्ट्रीम में, 50% प्रश्न बहुविकल्पीय प्रश्न (MCQ) होंगे जबकि शेष वर्णनात्मक रूप में होंगे. वर्णनात्मक प्रकार के प्रश्नों में भी राज्य बोर्ड (GSEB) परीक्षा निकाय ने अपने छात्र को आंतरिक विकल्पों के स्थान पर सामान्य विकल्प दिया है.

जीएसईबी ने दिया प्रश्न पत्र का नमूना

GSEB ने प्रश्न पत्र की शैली के बारे में एक उदाहरण देने के लिए विभिन्न विषयों से संबंधित 40 प्रश्न पत्र तैयार किए हैं. प्रश्न पत्र के नमूने भी जिला शिक्षा अधिकारियों (DEO) को भेज दिए हैं. डीईओ को राज्य भर के सभी स्कूलों में नए प्रश्न पत्र के साथ डेमो प्रश्न पत्रों को प्रसारित करने के लिए कहा गया है. साथ ही स्कूल बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर भी उपलब्ध कराया गया है.

बता दें कि कोरोना महामारी के कारण देश के तमाम शैक्षण संस्थान बंद पड़े हैं. हालांकि अब धीरे-धीरे कोरोना के नए मामलों में कमी के बाद कई राज्य स्कूल खोलने की तैयारी में हैं.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें