Gujarat Exclusive > गुजरात > गुजरात विधानसभा में कांग्रेस ने किसानों के सम्मान में रखा मौन, भाजपा का इनकार

गुजरात विधानसभा में कांग्रेस ने किसानों के सम्मान में रखा मौन, भाजपा का इनकार

0
145

Gujarat Assembly: कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली की सीमाओं पर जान गंवाने वाले किसानों के सम्मान में मंगलवार को कांग्रेस विधायकों ने गुजरात विधानसभा में दो मिनट का मौन रखा. इस दौरान किसानों को कृषि लोन, नीलगायों को सासन गिर जंगल में छोड़ने के विरोध में तथा पशु पालकों को किसानों का दर्जा देने की मांग को लेकर कांग्रेस के तीन विधायकों ने मुख्यमंत्री विजय रुपाणी सरकार पर जमकर हमला बोला. Gujarat Assembly

गुजरात विधानसभा में कांग्रेस विधायको ने तीन कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली की सीमा पर गत कई महीने से जारी प्रदर्शन के दौरान जान गंवाने वाले 250 किसानों के सम्मान में दो मिनट का मौन रखा. Gujarat Assembly

यह भी पढ़ें: सूरत में निर्माणाधीन इमारत की मिट्टी धंसी, 2 मजदूरों की मौत

सदन में कृषि विभाग की वित्तीय मांगों पर चर्चा के दौरान नेता प्रतिपक्ष परेश धनानी ने कहा कि भगत सिंह, राजगुरु और सुखदेव को दो मिनट मौन रखकर श्रद्धांजलि दी जानी चाहिए. Gujarat Assembly

इसके बाद उन्होंने प्रस्ताव किया कि सदन को केंद्र के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली की सीमा पर प्रदर्शन के दौरान ‘‘शहीद हुए करीब 250 किसानों को भी श्रद्धांजलि देनी चाहिए. Gujarat Assembly

भाजपा का इनकार

हालांकि, भाजपा विधायकों ने इसमें शामिल होने से इनकार कर दिया और मंत्री ने आरोप लगाया कि विपक्षी पार्टी भगत सिंह और अन्य की शहादत का राजनीतिकरण कर रही है. Gujarat Assembly

गुजरात के उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल ने कहा कि विपक्षी पार्टी राजनीतिक लाभ के लिए जानबूझकर भगत सिंह की शहादत को प्रदर्शनकारी किसानों की मौत से मिला रही है. उन्होंने कहा, ‘‘क्या कांग्रेस ने उन 19 किसानों को श्रद्धांजलि दी थी, जिनकी मौत 1987 में गुजरात के गांधीनगर में उसके शासन के दौरान पुलिस की गोली लगने से हुई थी.’’ हालांकि इसके बावजूद कांग्रेस विधायकों ने दो मिनट का मौन रखा.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें