Gujarat Exclusive > गुजरात > गुजरात भाजपा नेता ने उड़ाई कोरोना गाइडलाइन की धज्जियां, सरकार ने जांच का दिया आदेश

गुजरात भाजपा नेता ने उड़ाई कोरोना गाइडलाइन की धज्जियां, सरकार ने जांच का दिया आदेश

0
561

सूरत: कोरोना संक्रमण के बीच भाजपा के पूर्व आदिजाति विकास मंत्री की पोती की सगाई का वीडियो वायरल हुआ है. वीडियो में हजारों लोगों को गरबा गाते हुए दिखाई दे रहे हैं.

इस दौरान कोरोना गाइड लाइन की लोग धज्जियां उड़ा रहे हैं. कोरोना दिशानिर्देशों का पालन नहीं करने के लिए भाजपा नेता की पोती की शादी ने विवाद खड़ा कर दिया है. Gujarat BJP leader

राज्य सरकार ने मामले की जांच के आदेश दिए हैं. इस मामले की गूंज गांधीनगर तक पहुंच गई. गृह मंत्री प्रदीप सिंह जडेजा ने वीडियो का विश्लेषण कर जांच के आदेश दिए हैं.

शादी समारोह में 6 हजार से ज्यादा लोग शामिल  Gujarat BJP leader

गुजरात में कोरोना के बढ़ते कहर का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि राज्य में कोरोना संक्रमितों की संख्या 2 लाख 10 हजार को पार कर गए हैं. Gujarat BJP leader

अहमदाबाद और सूरत सहित चार महानगरों में रात का कर्फ्यू लगाया गया है. वहीं दूसरी ओर, भाजपा के नेता सरकार की कोरोना गाइडलाइन का खुलेआम उल्लंघन कर रहे हैं.

गुजरात के तापी जिला के भाजपा नेता कांति गामित की पोती की सगाई में 6,000 से अधिक लोग गरबा गाते नजर आए. Gujarat BJP leader

कोरोना पर काबू पाने के लिए गुजरात सरकार आम आदमियों से भारी जुर्माना वसूल रही है वहीं भाजपा नेता नियमों का खुले आम धज्जियां उठा रहे हैं. ऐसे में जिला प्रशासन पर भी सवाल उठने लगा है.

यह भी पढ़ें: गुजरात: अहमद पटेल के बच्चों ने राजनीति में आने से किया इनकार

आईजीपी ने शिकायत दर्ज करने का दिया आदेश Gujarat BJP leader

मामले पर गुजरात एक्सक्लूसिव से बातचीत करते हुए रेंज आईजीपी राजकुमार पांडियन ने कहा कि तापी एसपी को शिकायत दर्ज करने का आदेश दिया है.

घटना का वीडियो जब्त वीडियो में दिखने वाले तमाम लोगों पर मुकदमा दर्ज किया जाएगा. कार्यक्रम के दौरान लापरवाही बरतने वाले पुलिस कर्मियों पर भी कार्रवाई की जाएगी. ”

कांग्रेस ने उठाए सवाल Gujarat BJP leader

मामला सामने आने पर कांग्रेस प्रवक्ता मनीष दोशी ने सवाल खड़ा करते हुए कहा कि जिला कलेक्टर अपना काम क्यों नहीं कर रहे हैं, सरकार तुरंत कार्रवाई करे, पुलिस की बहादुरी कहां गई.

दोशी ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि कानून केवल आम लोगों के लिए है न कि भाजपा नेताओं के लिए. Gujarat BJP leader

अगर आम जनता मास्क नहीं पहनती है, तो सरकार हजारों रुपये का जुर्माना लगाती है. लेकिन भाजपा नेता के खिलाफ किसी भी तरीके की कार्रवाई नहीं कर रही.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

दिल्ली के तर्ज पर अब गुजरात में भी सिर्फ 800 रुपये में होगा कोरोना का टेस्ट