Gujarat Exclusive > गुजरात > गुजरात BJP अध्यक्ष सीआर पाटिल का ‘मिशन 182’, CM रुपाणी भी बने पेज प्रमुख

गुजरात BJP अध्यक्ष सीआर पाटिल का ‘मिशन 182’, CM रुपाणी भी बने पेज प्रमुख

0
508

अहमदाबाद: गुजरात भाजपा के नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष सीआर पाटिल ‘मिशन 182’ के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं.

2022 में होने वाले गुजरात विधानसभा चुनावों में बीजेपी को पहले से ज्यादा मजबूत करने के लिए पेज प्रमुख अभियान शुरू किया है. इसमें भाजपा नेता आगे आकर अपने वार्ड के बूथ अध्यक्ष बन रहे हैं.

सीआर पाटिल खुद भी अपने वार्ड बूथ के अध्यक्ष बने हैं. उनके बाद मुख्यमंत्री विजय रूपाणी भी राजकोट में अपने वार्ड बूथ के पेज प्रमुख बन गए हैं.

सीएम रूपाणी के साथ उनकी पत्नी भी वार्ड नंबर 10 में पेज प्रमुख बनी हैं. Gujarat CM Rupani

सीएम रूपाणी ने ट्वीट कर दी जानकारी Gujarat CM Rupani

विजय रूपाणी ने ट्वीट कर दी जानकारी उन्होंने ट्वीट कर लिखा “प्रदेश अध्यक्ष सी आर पाटिल के मार्गदर्शन और निर्देश के अनुसार वार्ड नंबर 10 और मेरे बूथ नंबर 2 के पेज नंबर 22 की पेज कमेटी के गठन का काम पूरा करने के बाद प्रदेश अध्यक्ष पाटिल के समक्ष प्रस्तुत किया.”

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा पहल कर सीएम ने पेश किया प्रेरणादायक उदाहरण Gujarat CM Rupani

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सीआर पाटिल ने विजय रुपाणी को पेज प्रमुख का काम सफलतापूर्वक करने के लिए बधाई दी है. उन्होंने ट्वीट कर लिखा “गुजरात के माननीय मुख्यमंत्री विजय रूपाणी जी ने पेज प्रमुख के रूप में पेज कमेटी की रचना कर आपने हम सभी को एक प्रेरणादायक उदाहरण दिया है. इसके लिए मैं मुख्यमंत्री का शुक्रिया अदा करता हूं. ”

उल्लेखनीय है कि सीआर पाटिल ने पहले ही एक सार्वजनिक बैठक में कहा था कि जो कोई भी विधानसभा का टिकट चाहता है.

उसे पहले अपना पेज मजबूत करना होगा. जो काम करेगा उसी को ही टिकट मिलेगा. Gujarat CM Rupani

क्या होता है पेज प्रमुख

प्रत्येक निर्वाचन क्षेत्र की मतदाता सूची निर्वाचन आयोग द्वारा तैयार की जाती है. इसमें प्रत्येक पेज पर 30 मतदाताओं का नाम होता है. इस पेज के लिए भाजपा एक अध्यक्ष नियुक्त करती है.

आमतौर पर यह पेज प्रमुख उस क्षेत्र, सोसायटी, मोहल्ला या फिर पोल का कार्यकर्ता होता है. पेज प्रमुख को जबतक चुनाव नहीं होता है तबतक 30 मतदाताओं के साथ संपर्क रखने की जिम्मेदारी दी जाती है. Gujarat CM Rupani

पेज प्रमुख के साथ प्रदेश अध्यक्ष से लेकर अलग-अलग नेता लगातार संपर्क में रहते हैं. Gujarat CM Rupani

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

स्मृति ईरानी की अध्यक्षता वाली समिति ने धोलेरा का दिया उदाहरण, कहा- उद्योगों को किसानों से सीधे जमीन खरीदने दें