Gujarat Exclusive > गुजरात > गुजरात में कोरोना के 1598 नए मामले मिले, 24 घंटे में 15 लोगों की मौत

गुजरात में कोरोना के 1598 नए मामले मिले, 24 घंटे में 15 लोगों की मौत

0
232

गुजरात में कोरोना (Gujarat Corona Case) संकट बढ़ता ही जा रहा है. नवंबर की शुरुआत में कोरोने के मामले राहत देने वाले थे लेकिन महीना खत्म होते-होते नए मामलों (Gujarat Corona Case) ने चिंता बढ़ा दी है. स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक गुजरात में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 1598 नए मामले (Gujarat Corona Case) सामने आए. राज्य में संक्रमित लोगों की कुल संख्या 2,06,714 तक पहुंच गई है.

वहीं बीते 24 घंटे में कोरोना के कारण 15 और लोगों की मौत हो गई. इसके साथ ही राज्य में कोरोना से मौत का कुल आंकड़ा 3953 तक पहुंच गया है. राज्य के विभिन्न जिलों में आज 69,887 कोरोना टेस्ट किए गए. गुजरात में अब तक 76,90,779 कोरोना टेस्ट किए गए हैं.

यह भी पढ़ें: पीएम ने किया SII का दौरा, पूनावाला बोले- जुलाई तक 30-40 करोड़ वैक्सीन बनाना लक्ष्य

स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, वर्तमान में राज्य में 14,792 सक्रिय मामले (Gujarat Corona Case) हैं, जबकि अब तक कुल 1,87,969 लोग कोरोना को हराने में सफल हुए हैं. आज राज्य में कुल 1523 मरीज डिस्चार्ज हुए. वर्तमान में राज्य में वेंटिलेटर पर 89 मरीज हैं जबकि 14,703 लोगों की हालत स्थिर है. राज्य में रिकवरी रेट 90.93 प्रतिशत है.

नए मामलों और मौतों की स्थिति

राज्य में आज 15 लोगों की मौत कोरोना के कारण हुई जिसमें से अहमदाबाद कॉर्पोरेशन में 10, सूरत कॉर्पोरेशन में 2 जबकि गांधीनगर, राजकोट कॉर्पोरेशन और वडोदरा में एक-एक व्यक्ति की मौत हो गई.  नए मामलों (Gujarat Corona Case) की बात करें तो अहमदाबाद कॉर्पोरेशन में 332, सूरत कॉर्पोरेशन में 228, वडोदरा कॉर्पोरेशन में 138, राजकोट कॉर्पोरेशन में 98, बनासकांठा में 58, मेहसाणा 57, सूरत में 56,  राजकोट में 53 और पाटन में 50 नए मामले सामने आए हैं.

अहमदाबाद रेलवे स्टेशन अब कोरोना टेस्ट नहीं

उधर अहमदाबाद के कालूपुर रेलवे स्टेशन पर कोरोना की जांच के लिए बनाए गए शिविर को बंद कर दिया गया है. कोरोना के बढ़ते मामलों (Gujarat Corona Case) को देखने हुए अहमदाबाद कॉर्पोरेशन (एएमसी) शहर के कालूपुर रेलवे स्टेशन पर ट्रेन से बाहर से आने वाले यात्रियों के लिए कोरोना टेस्ट कर रही थी जिसके लिए एक विशाल शिविर लगाया था गया था. इस दौरान कई यात्रियों को कोरोना पॉजिटिव पाया गया. हालांकि अब कोरोना टेस्ट शिविर के बंद होने के बाद शहर में कोरोना वायरस के संक्रमण के फैलने का खतरा बढ़ गया है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें