Gujarat Exclusive > गुजरात > कोरोना की चपेट में आए गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल

कोरोना की चपेट में आए गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल

0
282
  • राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल कोरोना संक्रमित
  • पिछले ढाई दशकों से साथ रहने वाले शेतल पंड्या की रिपोर्ट भी पॉजिटिव
  • सीएम रूपानी ने केशुभाई पटेल के स्वास्थ्य के बारे में अपने बेटे भरत के साथ टेलीफोन पर बातचीत की

गांधीनगर: राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल कोरोना की चपेट में आ गए हैं. 92 वर्षीय पूर्व मुख्यमंत्री की देखभाल करने वाले उनके दोनों सहयोगी कोरोना की चपेट में आ गए थे.

जिसके बाद केशुभाई पटेल भी कोरोना से संक्रमित हो गए हैं. कोरोना संक्रमित होने के बाद उन्हें गांधीनगर में स्थित सरकारी बंगले में होम क्वारंटाइन कर दिया गया है.

उसकी हालत फिलहाल स्थित बताई जा रही है. इलाज के लिए उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया जाएगा या नहीं इसे लेकर अभी तक निर्णय नहीं किया गया है.

कोरोना की चपेट में आए गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल

गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल की कोरोना रिपोर्ट आज पॉजिटिव आई है.

केशुभाई के साथ पिछले ढाई दशक से ज्यादा समय से साये की तरह साथ रहने वाले उनके सहयोगी शेतल पंड्या की भी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है.

कोरोना की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद पूर्व मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल को गांधीनगर में उनके सरकारी बंगले क्वरंटाइन कर दिया गया.

उनके सहयोगी शेतल पंड्या और विठ्ठल नामक व्यक्ति एक साथ ही उनके घर में रहते थे.

पिछले दिनों हुआ था सर्जरी

पूर्व मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल 92 साल के है. पिछले दिनों उनकी सर्जरी भी की गई थी. उसके बाद से उनके सबसे छोटे बेटे भरत पटेल उनका खास ध्यान रख रहे हैं.

लेकिन पिछले एक हफ्ते से विठ्ठल सुबह आता था और शाम को घर चला जाता था.

टेस्ट के कुछ घंटों बाद रिपोर्ट आई पॉजिटिव

केशुभाई पटेल के साथ रहने वाले दोनों सहयोगियों का कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद आज उन्होंने भी अपना कोरोना टेस्ट करवाया था.

टेस्ट के कुछ घंटों बाद उनका रिपोर्ट पॉजिटिव आया. राज्य के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने केशुभाई पटेल के स्वास्थ्य के बारे में अपने बेटे भरत के साथ टेलीफोन पर बातचीत की.

गुजरात एक्सक्लूसिव से बातचीत कर दी जानकारी

केशुभाई के पुत्र भरत पटेल ने गुजरात एक्सक्लूसिव से बातचीत करते हुए बताया कि केशुभाई की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उन्हें घर में ही होम क्वरंटाइन कर दिया गया है.

उन्हे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया जाए या नहीं इसको लेकर अभी तक कोई निर्णय नहीं किया गया है.

अगर उनकी तबीयत बिगड़ती है तो उन्हें अस्पताल में शिफ्ट किया जाएगा. उल्लेखनीय है कि केशुभाई के दामाद डॉ. मयूर देसाई एक जाने माने डॉक्टर हैं.

उनसे सलाह लेने के बाद उचित निर्णय लिया जाएगा.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर लगाया हेल्थ वर्कर्स के अपमान का आरोप