Gujarat Exclusive > गुजरात > गुजरात सरकार ने लिया बड़ा फैसला, जान गवाने वाले कोरोना वारियर्स के परिजन को मिलेगा फायदा

गुजरात सरकार ने लिया बड़ा फैसला, जान गवाने वाले कोरोना वारियर्स के परिजन को मिलेगा फायदा

0
530
  • गुजरात में दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है कोरोना का कहर
  • कोरोना वारियर्स के परिजन को लेकर रूपाणी सरकार ने लिया बड़ा फैसला
  • उच्च शिक्षा हासिल करने वाले छात्रों को मिलेगा फायदा

अहमदाबाद: गुजरात सहित पूरे देश में कोरोना का कहर देखने को मिल रहा है. भारत में कोरोना के बढ़ते मामलों का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि भारत अब पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा संक्रमित देशों की लिस्ट में भारत दूसरे पायदान पर पहुंच गया है.

गुजरात में बीते कुछ दिनों से कोरोना के नए मामले 1400 से ज्यादा दर्ज हो रही है. गुजरात में कोरोना पर काबू पाने को लेकर ड्यूटी पर तैनात रहने वाले कई सरकारी कर्मचारी भी कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं.

वहीं कुछ सरकारी कर्मचारियों की मौत भी हो चुकी है. ऐसे में कोरोना की वजह से जिंदगी की जंग हार चुके सरकारी कर्मचारियों के मदद करने का सरकार ने फैसला किया है.

यह निर्णय अकादमिक वर्ष 2020/21 से लागू किया जाएगा

इसका फायदा उठाने के लिए विभाग के अधीन कार्यालय में ड्यूटी करने वाले सरकारी कर्मचारी को उस अधिकारी का प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना होगा जो विभाग के उप सचिव से कम स्तर पर काम करने वालो हो.

यह निर्णय अकादमिक वर्ष 2020/21 से लागू किया जाएगा. गुजरात के मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना को लागू कर दिया है.

इस योजना के तहत सरकार उच्च शिक्षा पाठ्यक्रमों में प्रवेश पाने वाले तेजस्वी और जरूरतमंद छात्रों की मदद के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करती है.

यह भी पढ़ें: महिसागर के पढारिया में दर्दनाक सड़क हादसा, निजी बस पलटने से 100 ज्यादा यात्री घायल

प्राथमिक, माध्यमिक और उच्च माध्यमिक के साथ-साथ उच्च शिक्षा में अध्ययन करने वाले सभी वर्गों के तेजस्वी और ज़रूरतमंद योग्य छात्रों को सरकार के द्वारा अध्ययन सहायता और अन्य सुविधाएं दी जाती हैं.

मौजूद हालात में कोरोना के खिलाफ जंग लड़ने वाले लोगों को विश्व स्वास्थ्य संगठन कोरोना वारियर्स के रूप में जाना जाता है.

कोरोना कहर के दौरान ड्यूटी पर तैनात रहने वाले सरकारी कर्मचारियों के बच्चों को उच्च शिक्षा देने के मकसद को लेकर गुजरात सरकार उन कर्मचारी जिनकी कोरोना की वजह से मौत हो गई है.

ऐसे बच्चों को युवा स्वावलंबन योजना का लाभ देने की योजना बना रही है. इस योजना का लाभ अकादमिक वर्ष 2020/21 से हासिल किया जा सकेगा.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

गुजरात विधानसभा सत्र शुरू होने से पहले 6 विधायक कोरोना संक्रमित