Gujarat Exclusive > गुजरात > गुजरात DGP ने प्रवासी मजदूरों से कहा धीरज से लें काम, हिंसा करने वालों पर होगी कार्रवाई

गुजरात DGP ने प्रवासी मजदूरों से कहा धीरज से लें काम, हिंसा करने वालों पर होगी कार्रवाई

0
1094

लोकडाउन के दौरान गुजरात के कई शहरों में प्रवासी श्रमिकों की ओर से शुरू हुए उत्पात के चलते राज्य के डीजीपी शिवानंद झा ने अन्य राज्यों के लोगों से कानून नहीं तोड़ने की अपील की है. उन्होंने कहा है कि यदि प्रवासी लोग प्रशासन का साथ नहीं देंगे और कानून तोड़ेंगे तो उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.

डीजीपी शिवानंद झा ने कहा कि प्रशासन की ओर से अन्य राज्यों के लोगों को ट्रेन या सड़क के माध्यम से वतन ले जाने का प्रयास किया जा रहा है. ऐसे में लोगों को धीरज रखना चाहिए. डीजीपी ने कहा कि केंद्र की गाइडलाइन के अनुसार राज्यों ने लॉकडाउन डाउन थ्री में विशेष योजनाएं बना रखी हैं. जिसमें की रेड जोन पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है. रेड जोन के बाहर लोगों का आवागमन ना हो सके इसलिए कड़ी व्यवस्था बनाई गई है. रेड जोन के अलावा अन्य क्षेत्रों में भी लोग लॉकडाउन को हल्के में ना लें. यदि दुकानें खुली पाई गई तो सख्त कार्यवाही की जा सकती है.

उन्होंने बताया कि राज्य में सीसीटीवी कैमरे के आधार पर कई सोसायटीयों की चेकिंग करने पर 33 अपराध में 33 लोगों की धरपकड़ की गई है. अब तक 526 अपराधों में 800 लोगों की धरपकड़ की गई है. राज्य में रविवार को ड्रोन के माध्यम से 86 अपराध दर्ज किए गए है. गौरतलब हो कि पिछले कुछ दिनों से गुजरात में फंसे प्रवासी मजदूरों के सब्र का बांध टूट गया है जिसकी वजह से रास्ते पर उतरकर हंगामा कर रहे हैं. लेकिन अभी तक हंगामा करने वाले इन प्रवासी मजदूरों के घर वापसी का कोई पुख्ता इंतजाम गुजरात सरकार की ओर से नहीं किया जा रहा है.

बेसहारा हुए गुजरात में प्रवासी मजदूर, घर वापसी को लेकर नहीं मिल रही पुख्ता जानकारी