Gujarat Exclusive > गुजरात > गुजरात शिक्षा विभाग ने अपनाया CBSE पैटर्न, वेकेशन की छुट्टीयां हुईं कम

गुजरात शिक्षा विभाग ने अपनाया CBSE पैटर्न, वेकेशन की छुट्टीयां हुईं कम

0
771

केंन्द्रीय उच्चतर माध्यमिक बोर्ड के फैसले के नक्शे कदम पर गुजरात के शिक्षा विभाग ने भी कई परिवर्तन किए हैं. इसके अनुसार अब कक्षा 10-12 की बोर्ड की परीक्षा अब अगले वर्ष से फरवरी में ही आयोजित की जायेगी. इसके अनुसार परिणाम और प्रवेश भी पहले ही शुरु हो सकेगा. शिक्षा सत्र अप्रैल से शुरु होने के साथ ही कई परिवर्तन हो जायेंगे.

गुजरात शिक्षा विभाग ने इस बारे में अधिसूचना जारी की है. उसमें कहा गया है कि अब शिक्षा अप्रैल से ही शुरु कर दिया जायेगा. अब सीबीएसई की तरह ही कक्षा-10-12 की परीक्षाएं भी आयोजित की जायेंगी. गत दो वर्ष से सीबएसइ की परीक्षाएं बहुत पहले ही आयोजित की जाती है. अब गुजरात में इस वर्ष के सत्र की परिक्षाएं फरवरी में ही आयोजित की जायेगी. शिक्षा विभाग ने अप्रैल से शिक्षा सत्र शुरु करने की घोषणा की है. इसलिए कक्षा नौ और 11 की वार्षिक परीक्षाएं भी मार्च के अंत तक आयोजित की जा सकेंगी. अगले वर्ष से कक्षा 10-12 की परीक्षाएं मार्च के बदले फरवरी में ही आयोजित की जायेंगी. शिक्षा सचिव एवं चेयरमैन के अनुसार इस वर्ष मार्च के प्रथम सप्ताह से परीक्षाएं आयोजित की जायेंगी.

प्राथमिक एवं माध्यमिक शिक्षा सचिव विनोद राव ने बताया कि परीक्षाएं पहले ही आयोजित करने के साथ ही परिणाम भी जल्दी ही घोषित किए जायेंगे. सीबीएसई की तरह ही परिणाम आप्रैल में ही घोषित कर दिया जायेगा.

गौरतलब है कि गुजरात मे प्राथमिक व माध्यमिक की परिक्षाएं जारी है. जबकि फाइनल परीक्षा अप्रैल महीने के अंत में लिया जाता है. लेकिन राज्य सरकार की तरफ जारी किये गये नये नियम के चलते कोर्स पूर्ण होने से पहले परिक्षाएं होने की संभावना है. इसके कारण छात्रों व अभिभावकों में असमंजस की स्थिति पैदा हुई है.