Gujarat Exclusive > गुजरात > LRD परीक्षा मामला में घिरती नजर आ रही गुजरात सरकार, छात्रों के पिता ने की आत्महत्या, मृतदेह स्वीकारने से इनकार

LRD परीक्षा मामला में घिरती नजर आ रही गुजरात सरकार, छात्रों के पिता ने की आत्महत्या, मृतदेह स्वीकारने से इनकार

0
264

सरकारी नौकरियों के लिए गुजरात सरकार की ओर से की जाने वाली एक और भर्ती प्रक्रिया विवादों में घिरती हुई नजर आ रही है. लोक रक्षक दल की नई मेरिट लिस्ट सामने आने के बाद कई उम्मीदवारों ने अन्याय होने का आरोप लगाया है. और इस मामले को लेकर राजधानी गांधीनगर में पिछले एक महीने से ज्यादा वक्त से इंसाफ की मांग को लेकर आंदोलन कर रहे हैं.

आंदोलन करने वाले उम्मीदवार गुजरात की विजय रूपाणी सरकार पर मामले को लेकर ध्यान नहीं देने का आरोप लगा रहे हैं. वहीं अब इस मामले में सरकार को नीद से जगाने के लिए एक पिता ने खुद को फांसी के फंदे पर लटकाकर जान दे दी. मामला है गुजरात के जूनागढ़ का हैं. जहां एक पिता न्याजाभाई ने सरकार तक अपनी बात पहुंचाने के लिए खुदकुशी कर ली. मामले की जानकारी मिलते ही पुलिस घटनास्थल पर पहुंची. जहां पुलिस ने एक सुसाइड नोट भी बरामद किया. इस नोट में मृतक न्याजाभाई ने खुद की मौत का जिम्मेदार गुजरात सरकार को ठहराया है.

घटना की जानकारी मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने मृतदेह को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जूनागढ़ सिविल अस्पाल भेज दिया. जिसके बाद बड़ी संख्या में रबारी समाज के लोग अस्पताल पहुंचकर इंसाफ की मांग कर रहे हैं. वहीं मृतक के परिजन जब तक इंसाफ नहीं मिलेगा मृतदेह को स्वीकार करने से इनकार कर दिया है.