Gujarat Exclusive > गुजरात > गुजरात के अस्पतालों में इलाज से पहले टीकाकरण का ब्योरा देना अनिवार्य

गुजरात के अस्पतालों में इलाज से पहले टीकाकरण का ब्योरा देना अनिवार्य

0
330

गांधीनगर: गुजरात में कोरोना की दूसरी लहर का असर लगभग खत्म हो चुका है. हालांकि तीसरी लहर की संभावना को लेकर प्रशासन ने टीकाकरण अभियान को तेज कर दिया है. इसी रणनीति के तहत राज्य सरकार ने सभी अस्पतालों को विशेष निर्देश जारी किया है. जिसमें मरीज को इलाज से पहले टीकाकरण की जानकारी देना अनिवार्य कर दिया गया है.

गुजरात के स्वास्थ्य आयुक्त जय प्रकाश शिवहरे ने सभी जिला कलेक्टरों और डीडीओ को पत्र लिखकर इसकी जानकारी दी है. जिसमें कहा गया है कि सभी सरकारी और निजी अस्पतालों में इलाज के लिए आने वाले मरीज के केस पेपर पर टीकाकरण की खुराक का ब्योरा भी देना होगा.

राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने सभी सरकारी और निजी अस्पतालों को निर्देश दिया है कि अब उनको प्रत्येक मरीज के केस पेपर पर कितनी खुराक ली है. उसकी जानकारी लिखनी होगी.

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, 16 अक्टूबर तक गुजरात में 4.38 करोड़ लोगों को कोरोना वैक्सीन की पहली खुराक मिल चुकी थी. जबकि 2.24 करोड़ लोगों को दूसरी खुराक मिल चुकी है. कल के आंकड़ों पर नजर डालें तो शाम चार बजे तक राज्य में कुल 3,61,852 लोगों को कोरोना का टीका लगाया गया था.

ठगों ने दिल्ली के व्यापारी को लगाया 2.67 करोड़ का चूना, कहा- गुजरात में जमीन की कीमत…