Gujarat Exclusive > गुजरात > गुजरात: कोरोना से प्रभावित इलाकों का भ्रमण करेगा ‘कोविड विजय रथ’

गुजरात: कोरोना से प्रभावित इलाकों का भ्रमण करेगा ‘कोविड विजय रथ’

0
1134

Gujarat kovid vijay rath news

  • कोरोना के खिलाफ जारी जंग में सरकार का जागरूकता अभियान
  • धन्वंतरी के बाद, ‘कोविड विजय रथ’ के तहत चलाया गया जागरूकता अभियान
  • सीएम रूपाणी ने हरी झंडी दिखाकर ‘कोविड विजय रथ’ को किया रवाना

गांधीनगर: गुजरात में कोरोना का आतंक दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है. गुजरात सरकार संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए हर संभव कदम उठा रही है.

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने सोमवार को गांधीनगर से ई-माध्यम से गुजरात के 5 जोन में “कोविड विजय रथ” को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया.

कोविड विजय रथ को सूरत जिला सेवा सदन से सांसद दर्शना जरदोश, कलेक्टर डॉ. धवल पटेल, महापौर डॉ. जगदीश पटेल और जिला विकास अधिकारी एच.के. कोया की मौजूदगी में प्रस्थान कराया गया.

5 जोन में कोविड विजय रथ करेगा भ्रमण

गुजरात के पांच अलग-अलग जोन सूरत, अहमदाबाद, जूनागढ़, भुज और पालनपुर से ई-माध्यम से “कोविड विजय रथ” का सीएम विजय रूपाणी ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया.

सूरत से रवाना हुआ यह विजय रथ 44 दिनों तक भरूच, नर्मदा, तापी, नवसारी, वलसाड और डांग जिलों की यात्रा करेगा. कोविड विजय रथ के तहत जनजागृति फैलाने की कोशिश की जा रही है.

यह भी पढ़ें: अहमदाबाद: आरोपी युवती को ब्लैकमेल कर 7 सालों तक करता रहा बलात्कार

लोगों में फैलाई जाएगी जनजागृति

इस सिलसिले में जानकारी देते हुए सूरत कलेक्टर डॉ. धवल पटेल ने कहा कि विजय रथ 7 से 10 सितंबर के बीच सूरत शहर और जिले के विभिन्न क्षेत्रों में यात्रा करेगा और लोगों में जागरूकता फैलाया जाएगा.

विजय रथ के तहत शहर में सिर्फ एक दिन और ग्रामीण इलाकों में 7 से 10 दिनों तक जगरूकता अभियान चलाया जाएगा.

8 सितंबर – ओलपाड, अटोदरा, सांधिअर, परिया, सायण
9 सितंबर – कामराज, अब्रामा, अंत्रोली, नई पारडी
10-सितंबर-मांगरोण, पिपोदरा ग्राम पंचायत, हथोडा, कठवाड़ा और कोसंबा
11 सितंबर को भरुच, 12 सितंबर को अंकलेश्वर और 13 सितंबर को झगडिय़ा के लिए रवाना होगा. जिसके बाद विजय रथ नर्मदा, राजपीपला, तापी, नवसारी, वलसाड और डांग जिलों का यात्रा करेगा

इस अभियान का उद्देश्य आम जनता में विश्वास और जागरूकता बढ़ाना है. कोरोना के बढ़ते आतंक पर काबू पाने के लिए शुरू किए गए इस विशेष अभियान के तहत हर दिन 60 किमी की यात्रा करेगा.

केंद्र और राज्य सरकार के राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य मिशन, नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति, मानवरहित आयकर आकलन प्रणाली, प्रधानमंत्री कृषि अवसंरचना कोष, आत्मनिर्भर भारत की जानकारी दी जाएगी.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

सूरत: थाई युवती की मौत का रहस्य, मामले की जांच करेगी SIT