Gujarat Exclusive > गुजरात > गुजरात में कर्फ्यू या लॉकडाउन लगेगा? नितिन पटेल ने दिया बड़ा बयान

गुजरात में कर्फ्यू या लॉकडाउन लगेगा? नितिन पटेल ने दिया बड़ा बयान

0
1040

गांधीनगर: देश में कोरोना महामारी की वजह से मध्य प्रदेश में वीकेंड लॉकडाउन लागू करने का ऐलान किया है. कोरोना की वजह से गुजरात की भी स्थिति हर दिन खराब होती जा रही है.

इस बीच राज्य के उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल ने तालाबंदी या कर्फ्यू को लेकर बड़ा बयान दिया है. Gujarat Lockdown Nitin Patel

लॉकडाउन को लेकर उपमुख्यमंत्री ने दिया बड़ा बयान  Gujarat Lockdown Nitin Patel

नितिन पटेल ने कहा, “हमारे फैसले के अनुसार नाइट कर्फ्यू लागू कर दिया गया है. कोरोना पर काबू पाने के लिए अन्य व्यवस्थाएं भी की गई हैं. स्कूलों को भी बंद कर दिया गया है.

सार्वजनिक समारोहों, राजनीतिक समारोहों, धार्मिक समारोहों पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है. Gujarat Lockdown Nitin Patel

कोरोना दिशानिर्देशों को सख्त से पालन करवाने के लिए पुलिस को निर्देश दिया गया है.”

20 शहरों में लागू नाइट कर्फ्यू Gujarat Lockdown Nitin Patel

मंगलवार शाम को ऐसी खबरें भी आईं कि राज्य में 72 घंटों की लॉकडाउन की तैयारी हो चुकी है. शाम को सरकार इसका ऐलान कर देगी. लेकिन रात साढ़े नौ बजे मुख्यमंत्री रुपाणी टीवी चैनलों पर आए और कहा कि तालाबंदी नहीं होगी. लेकिन नए आदेश के अनुसार अहमदाबाद, सूरत, वडोदरा, राजकोट, आणंद, पाटन, गोधरा, दाहोद, भुज, अमरेली, मेहसाणा, मोरबी, भावनगर, जामनगर, जूनागढ़, गांधीनगर, नाडियाद, गांधीधाम, भरूच, सुरेंद्रनगर में रात 8 बजे से सुबह 6 बजे तक कर्फ्यू लगाने का फैसला किया गया है. Gujarat Lockdown Nitin Patel

कोरोना कोरोना के बढ़ते आतंक पर काबू पाने के लिए नई गाइडलाइन जारी की गई है. जिसके तहत अब शादी समारोह में सिर्फ 100 मेहमानों के आने की अनुमति दी गई है.

इतना ही नहीं 30 तारीख तक हर शनिवार और रविवार को सरकारी कार्यालय भी बंद रहेंगे. राजनीतिक के साथ-साथ सामाजिक समारोहों पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है.

गुजरात हाईकोर्ट ने दिया था निर्देश

कल गुजरात हाईकोर्ट ने कोरोना की स्थिति को मद्देनजर रखते हुए कहा कि कोरोना की चैन को तोड़ने की जरूरत महसूस की जा रही है. Gujarat Lockdown Nitin Patel

राज्य सरकार वीकेंड लॉकडाउन या फिर तीन से चार दिवसीय कर्फ्यू लगाने का निर्णय लेने का निर्देश दिया था. साथ ही राजनीतिक कार्यक्रमों पर नियंत्रण का आदेश जारी किया था.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

सूरत: BJP विधायक हर्ष संघवी ने डॉक्टर- मेडिकल स्टाफ पर कामचोरी का लगाया आरोप