Gujarat Exclusive > गुजरात > गुजरात में लॉकडाउन की अफवाह फैलाने वाला आरोपी डभोई से गिरफ्तार

गुजरात में लॉकडाउन की अफवाह फैलाने वाला आरोपी डभोई से गिरफ्तार

0
514

अहमदबाद: गुजरात में कोरोना के बढ़ते आतंक के बीच लॉकडाउन की अफवाह तेज हो गई है. बीते दिनों छह शहरों में तालाबंदी की अफवाह फैलाने वाला गिरफ्तार हो गया है.

पुलिस ने सोशल मीडिया के जरिय लॉकडाउन की अफवाह फैलाने वाली जावेद अहमद खत्री को डभोई से गिरफ्तार कर लिया है. Gujarat lockdown rumor accused arrested

जावेद ने फेसबुक पर फर्जी लॉकडाउन का एक पोस्ट डाला था. जो जमकर वायरल होने लगा था. मामले की गंभीरता को देखकर सरकार ने मामले की जांच साइबर सेल को सौंप दिया गया था.

पत्र हुआ था वायरल Gujarat lockdown rumor accused arrested

गुजरात में कोरोना के बढ़ते आतंक के बीच 11 अप्रैल से 17 अप्रैल तक गुजरात के छह प्रमुख शहरों में पूर्ण तालाबंदी की अफवाह वाला पोस्ट सामने आने के बाद गुजरात गृह विभाग को स्पष्टीकरण देना पड़ा था. Gujarat lockdown rumor accused arrested

साथ ही साथ गुजरात गृह विभाग ने लोगों से अपील किया था कि सरकार ने ऐसा कोई फैसला नहीं किया है इसलिए लोगों को ऐसी अफवाह से बचना चाहिए.

गुजरात सरकार को देनी पड़ी थी सफाई  Gujarat lockdown rumor accused arrested

राज्य सरकार के गृह विभाग के प्रवक्ता ने मामला सामने आने के बाद स्पष्ट किया फर्जी पत्र में 11 अप्रैल से 17 अप्रैल तक गुजरात के छह प्रमुख शहरों अहमदाबाद, वडोदरा, राजकोट, सूरत, भावनगर और गांधीनगर में पूर्ण तालाबंदी का फैसला किया है.

आपातकालीन सेवा शुरू रहेगी. पत्र में कहा गया है कि शहर में प्रवेश और निषेध के लिए जिला मजिस्ट्रेट की अनुमति की आवश्यक होगी यह पत्र बिल्कुल असत्य और गलत है.

गृह विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव पंकज कुमार के नाम और गलत हस्ताक्षर वाला यह पत्र पूरी तरह से गलत और फर्जी है. Gujarat lockdown rumor accused arrested

गौरतलब है कि पत्र में अतिरिक्त गृह सचिव पंकज कुमार ने जाली हस्ताक्षर भी किया गया था. लेकिन कोरोना की चपेट में आने वाले कुमार का इन दिनों इलाज के यू.एन. मेहता का हार्ट हॉस्पिटल में भर्ती है.

चूंकि वह छुट्टी पर हैं इसलिए उनके विभाग का प्रभारा किसी अन्य आईएएस अधिकारी को सौंपा गया है. Gujarat lockdown rumor accused arrested

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

AMC का फैसला, जब तक कोरोना पर काबू नहीं पा लिया जाता पान की दुकानें रहेंगी बंद