Gujarat Exclusive > गुजरात > आयुष्मान भारत में गुजरात की ‘माँ’ और ‘माँ वात्सल्य कार्ड’ योजना का विलय

आयुष्मान भारत में गुजरात की ‘माँ’ और ‘माँ वात्सल्य कार्ड’ योजना का विलय

0
550
  • 5 लाख रुपये तक का मुफ्त इलाज मिलेगा
    उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल ने की घोषणा
    पिछले कुछ दिनों से चल रही थी विलय की प्रक्रिया

गांधीनगर: गुजरात सरकार द्वारा शनिवार को ‘आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना’ के तहत दिए गए ‘आयुष्मान कार्ड’ को राज्य सरकार की ओर शुरू की गई ‘माँ वात्सल्य’ के तहत समेकित करने की घोषणा की है.

अब इन दो कार्डधारक किसी भी एक कार्ड के तहत 5 लाख रुपये तक का कैशलेस इलाज दिया जाएगा.

आयुष्मान भारत में गुजरात की योजनाओं को किया गया शामिल

गुजरात के उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल ने आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के साथ माँ कार्ड और माँ वात्सल्य कार्ड के विलय की घोषणा की गई है.

अभी तक माँ और मां वात्सल्य कार्ड योजना के तहत गंभीर बीमारियों का मुफ्त इलाज किया जाता था.

गुजरात सरकार ने राज्य के मरीजों को स्वस्थ्य सुविधा आसानी से मुहैया कराने के लिए मां और मां वात्सल्य कार्ड को आयुष्मान कार्ड के साथ विलय करने का फैसला लिया है.

5 लाख रुपये तक का मुफ्त इलाज मिलेगा

इस कार्ड के साथ आधार कार्ड ले जाने वाले मरीजों को नामित अस्पतालों में 5 लाख रुपये तक का कैशलेस उपचार प्रदान किया जाएगा.

डिप्टी सीएम नितिन पटेल ने इस सिलसिले में जानकारी देते हुए कहा कि गरीब और मध्यम वर्ग के परिवारों को गंभीर बीमारियों के इलाज के लिए राज्य सरकार की ओर से 5 लाख रुपये तक का मुफ्त इलाज मां कार्ड और मां वात्सल्य कार्ड के तहत दिया जा रहा था.

लेकिन अब ये फायदा “आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना” के तहत उपलब्ध होंगे. दोनों ही योजनाओं के तहत इलाज के लिए तमाम पेकेज एक समान है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

गुजरात में कोरोना वैक्सीन जनवरी में आ सकती है, CM रूपाणी ने दिया संकेत