Gujarat Exclusive > गुजरात > CBSE ने बोर्ड परीक्षा में पूछा गुजरात दंगों से जुड़ा सवाल, विवाद बढ़ने पर कहा- गलती हो गई

CBSE ने बोर्ड परीक्षा में पूछा गुजरात दंगों से जुड़ा सवाल, विवाद बढ़ने पर कहा- गलती हो गई

0
185

गांधीनगर: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की 12वीं कक्षा की परीक्षा में गुजरात दंगों को लेकर एक सवाल पूछा गया था. मामला सामने आने के बाद शिक्षा जगत में हड़कंप मच गया है. विवाद बढ़ता देख सीबीएसई ने सवाल को ‘अनुचित’ और उसके दिशा-निर्देशों के खिलाफ बताया. इतना ही नहीं सीबीएसई ने कहा कि गलती हो गई और जो भी इस मामले में जिम्मेदार पाया जाएगा उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.

सवाल क्या था?

सीबीएसई 12वीं की परीक्षा में छात्रों को समाजशास्त्र के प्रश्न पत्र में पार्टी का नाम देने के लिए कहा गया था, जिसके दौरान 2002 में गुजरात में मुस्लिम विरोधी हिंसा हुई थी. समाजशास्त्र परीक्षा में बहुविकल्पीय प्रश्न पूछे गए थे. सवाल था कि 2002 में किस सरकार के कार्यकाल के दौरान गुजरात में व्यापक रूप से मुस्लिम विरोधी हिंसा हुई थी? जवाब के विकल्प में कांग्रेस, बीजेपी, डेमोक्रेटिक और रिपब्लिकन था.

सीबीएसई ने एक आधिकारिक बयान में कहा कि 12वीं कक्षा के समाजशास्त्र टर्म 1 की परीक्षा में बुधवार को एक प्रश्न पूछा गया, जो अनुचित है और प्रश्न पत्र तैयार करने में बाहरी विषय विशेषज्ञों के लिए सीबीएसई के दिशानिर्देशों का उल्लंघन है. सीबीएसई इस गलती को स्वीकार करता है और इसके लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करेगा.

गौरतलब है कि 27 फरवरी, 2002 को गोधरा रेलवे स्टेशन पर भीड़ ने साबरमती ट्रेन के डिब्बे में आग लगा दी थी, जिसमें कम से कम 59 लोग मारे गए थे. जबकि 48 लोग घायल हो गए थे. घटना में गिरफ्तार 94 आरोपियों पर मुकदमा चल रहा था. जिसमें 11 आरोपियों को फांसी की सजा सुनाई गई थी. जबकि 20 आरोपियों को उम्रकैद की सजा सुनाई गई थी. जबकि 63 आरोपियों को बरी कर दिया गया था.