Gujarat Exclusive > गुजरात > गुजरात के शिक्षा मंत्री भूपेंद्र सिंह चुडासमा ने कहा-कभी ना कभी स्कूलों को खोलना ही पड़ेगा

गुजरात के शिक्षा मंत्री भूपेंद्र सिंह चुडासमा ने कहा-कभी ना कभी स्कूलों को खोलना ही पड़ेगा

0
406
  • गुजरात में दिवाली के बाद खुल जाएंगे स्कूल
  • शिक्षा मंत्री ने कहा स्कूलों को खोलने के लिए की जा रही है चर्चा
  • पहले चरण में कक्षा 9 से 12 के छात्रों के लिए खोले जाएंगे स्कूल

अहमदबाद: भारत में कोरोना अपनी ढलान की ओर बढ़ रहा है. इस बीच पूरे देश में अनलॉक-5 के तहत स्कूलों को एक बार फिर से खोलने की अनुमति दी गई है.

कुछ राज्यों में आज से एक बार फिर से स्कूल खुल गए है. लेकिन गुजरात में स्कूलों को खोलन के लिए राज्य सरकार आज भी असमंजस की स्थिति में है. लेकिन गुजरात में आज भी स्कूलों में ऑनलाइन शिक्षा दी जा रही है.

इस बीच राज्य के शिक्षा मंत्री भूपेंद्र सिंह चुडासमा का बड़ा बयान सामने आया है. उन्होंने कहा कि स्कूलों को कभी ना कभी तो शुरू करना ही होगा.

स्कूलों को एक बार फिर से खोलने के लिए की जा रही है बातचीत

शिक्षा मंत्री भूपेंद्रसिंह चुडासमा ने एक बयान में कहा, “स्कूलों को बंद हुए 6 महीने हो चुके हैं. इसलिए कभी-कभी हमें स्कूल शुरू करना ही होगा. लेकिन इस मामले को लेकर सरकार अकेले निर्णय करे यह सही नहीं होगा.

हम शिक्षा विभाग अभिभावक के साथ-साथ शिक्षकों से भी लगातार चर्चा कर रहे हैं. हमें वेबिनार से प्रतिक्रिया मिलती है. जिसमें स्वास्थ्य विभाग की राय सबसे महत्वपूर्ण है.

बोर्ड परीक्षा को उत्तीर्ण करना हर छात्र का सपना होता है. उसके बाद ही छात्र सही दिशा चुनता है.

यह भी पढ़ें: सूरत: BJP उम्मीदवार जे.वी. काकडिया के कार्यक्रम में अंडा फेंकने पर मचा हंगामा

उल्लेखनीय है कि कल (रविवार) को स्कूलों को लेकर शिक्षा मंत्री भूपेंद्रसिंह चुडासमा और स्कूल प्रशासकों के बीच एक वेबिनार आयोजित किया गया था. इस वेबिनार ने गुजरात में स्कूल खोलने के लिए आवश्यक संकेत दिए.

विशेष रूप से राज्य में 1 से 5 तक के बच्चों के लिए स्कूल दिवाली के बाद भी नहीं खुलेंगे. लेकिन दिवाली के बाद कक्षा 9 वीं से 12 वीं तक के छात्रों के लिए स्कूल शुरू किए जाएंगे.

इसके अलावा, राज्य सरकार ग्रामीण इलाकों में मौजूद स्कूलों में कक्षा 6 से 8 के बच्चों को छूट देने पर भी विचार कर रही है. माना जा रहा है कि राज्य शिक्षा विभाग दीवाली की छुट्टियों को भी कम करने का मन बना रही है.

गुजरात स्वनिर्भर स्कूल बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स के उपाध्यक्ष जतिन भराडा ने कहा कि पहले चरण में कक्षा 9 से 12 तक के स्कूलों को शुरू किया जाएगा और बाद में छोटी कक्षाओं पर चर्चा की जाएगी यदि स्थिति नियंत्रण में रहेगी तो स्कूलों को खोलने पर चर्चा की जाएगी.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

BREAKING: अब राजधानी गांधीनगर में भी ड्रग्स की एंट्री, आरोपी गिरफ्तार