Gujarat Exclusive > देश-विदेश > हाथरस गैंगरेप केस: आरोपियों के वकील का दावा, यह गैंगेरप नहीं बल्कि हॉनर किलिंग है

हाथरस गैंगरेप केस: आरोपियों के वकील का दावा, यह गैंगेरप नहीं बल्कि हॉनर किलिंग है

0
540
  • हाथरस गैंगरेप मामले में सामने आया नया मोड़
  • आरोपियों के वकील ने पीड़िता के परिवार पर लगाया बड़ा आरोप
  • यह गैंगरेप का नहीं बल्कि हॉनर किलिंग का मामला है
  • पीड़िता के भाई ने ही उसे मौत के घाट उतारा है

हाथरस गैंगरेप मामले को लेकर देश में राजनीतिक माहौल गरम हो गया है. विपक्ष के साथ ही साथ आम आदमी सड़क पर उतकर गैंगरेप पीड़िता को इंसाफ देने की मांग कर रहे हैं.

मामले की जांच के लिए योगी सरकार ने एसआईटी का गठन कर दिया है.

इतना ही नहीं सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में इस मामले की जांच सीबीआई से कराने की भी योगी सरकार ने मांग की है.

आरोपियों के वकील ने किया बड़ा दावा

इस बीच हाथरस गैंगरेप आरोपियों के केस की पैरवी करने वाले वकील एपी सिंह ने पीड़ित परिवार पर बड़ा आरोप लगाया है. उन्होंने हमला बोलते हुए कहा कि यह गैंगरेप का नहीं बल्कि हॉनर किलिंग का मामला है.

पीड़िता को आरोपियों ने नहीं बल्कि उसके भाई ने ही मारा है. उन्होंने आगे कहा कि इस मामले को राजनीतिक बनाया जा रहा है जो गलत हैं.

एपी सिंह ने पीड़िता के परिवार पर लगाया बड़ा आरोप

एक न्यूज चैनल से बातचीत करते हुए हाथरस गैंगरेप के आरोपियों का केस लड़ने वाले वकील एपी सिंह ने कहा कि मेडिकल जांच रिपोर्ट में भी पीड़िता के साथ रेप नहीं होने की पुष्टि हो चुकी है.

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज में फोरेंसिक मेडिसिन विभाग ने प्रमाणित किया है कि हाथरस मामले में 19 साल की दलित पीड़िता के साथ रेप का कोई सबूत नहीं मिला है.

इसका सार्टिफिकेट भी योगी सरकार अपने हलफनामा में सुप्रीम कोर्ट में पेश कर चुकी है.

हाथरस आरोपियों का केस लड़ेंगे एपी सिंह

हाथरस गैंगरेप की घटना के बाद प्रदेश नहीं बल्कि पूरे देश के दलित समुदाय के लोग एक जुट हो गए थे. वहीं अब क्षत्रिय समाज भी आरोपियों का खुलकर समर्थन करना शुरू कर दिया है.

पूर्व केन्द्रीय मंत्री मानवेन्द्र सिंह की ओर से लिखे गए पत्र कहा गया है कि हाथरस के आरोपियों का केस एपी सिंह लड़ेंगे. उनकी फीस अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा की ओर से जमाकर दी जाएगी.

वहीं दूसरी और निर्भया के दोषियों को फांसी की सजा दिलाने वाली वकील सीमा समृद्धि कुशवाहा हाथरस गैंगरेप पीड़िता को इंसाफ दिलवाने के लिए पीड़ित परिवार का मुकदमा लड़ेंगी.

कोर्ट केस की पैरवी करने के लिए पीड़ित परिवार ने सहमति दे दी है और जरूरी दस्तावेजों पर हस्ताक्षर भी कर दिए हैं.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

रिया चक्रवर्ती को मिली जमानत, शौविक की याचिका बॉम्बे हाईकोर्ट ने की खारिज