Gujarat Exclusive > देश-विदेश > हाथरस मामले में सीएम योगी ने दिए सीबीआई जांच के आदेश

हाथरस मामले में सीएम योगी ने दिए सीबीआई जांच के आदेश

0
537

लगातार चल रहे विवादों के बीच अब हाथरस गैंगरेप मामले (Hathras Gangrape Case) की सीबीआई (CBI) जांच होगी. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हाथरस गैंगरेप केस की सीबीआई (CBI) जांच के आदेश दिए हैं. आज उत्तर प्रदेश अपर सचिव गृह अवनीश अवस्थी और डीजीपी हितेश चंद्र ने परिवार से मुलाकात की थी. जानकारी के मुताबिक इसी मुलाकात में परिवार ने सीबीआई (CBI) जांच की मांग की थी.

समझा जा रहा है कि अवनीश अवस्थी और हितेश चंद्र की रिपोर्ट के बाद सीएम योगी ने सीबीआई (CBI) जांच के आदेश दिए हैं. मालूम कि पीड़िता का परिवार लगातार पुलिस पर गलत जांच के आरोप लगाता रहा है. परिवार ने जिलाधिकारी पर भी गंभीर आरोप लगाए गए थे.

 

यह भी पढ़ें: पॉजिटिव या निगेटिव? 30 मिनट में पिता-पुत्र की कोरोना रिपोर्ट आई अलग-अलग

यूपी के उप मुख्यमंत्री कैशव प्रसाद मौर्य ने ट्वीट किया कि सीएम योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में प्रदेश की बीजेपी सरकार ने केंद्र सरकार से हाथरस प्रकरण (Hathras Gangrape Case) की जांच सीबीआई द्वारा कराए जाने की सिफारिश की है. प्रदेश के 24 करोड़ नागरिकों सहित एक-एक माता-बहन व बेटियों की रक्षा-सुरक्षा हेतु यूपी सरकार कटिबद्ध है.

राहुल और प्रियंका ने की परिवार से मुलाकात

इससे पहले कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी पीड़िता (Hathras Gangrape Case) के परिवार से मुलाकात की. दोनों नेताओं ने यहां पर गैंगरेप पीड़िता के परिवार से मुलाकात की. राहुल और प्रियंका गांधी ने बंद कमरे में पीड़िता के परिवार से मुलाकात की.

प्रियंका ने पीड़िता मां को लगाया गले

प्रियंका गांधी ने पीड़िता की मां को गले लगाया और सांत्वना दी. परिवार से मुलाकात के बाद प्रियंका गांधी ने कहा कि हम अन्याय के खिलाफ लड़ेंगे. परिवार आखिरी बार अपनी बच्ची का चेहरा नहीं देख पाया. यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को अपनी जिम्मेदारी समझनी होगी. कांग्रेस महासचिव ने कहा कि जब तक न्याय नहीं मिलता, तब तक हम लड़ेंगे. परिवार न्यायिक जांच चाहता है.

वहीं पीड़ित परिवार से मुलाकात के बाद राहुल गांधी ने कहा, “हम इस दुख में पीड़ित परिवार के साथ हैं. सरकार इन्हें डरा रही है, धमका रही है. इन्हें सुरक्षा देना सरकार की जिम्मेदारी है. सुरक्षा देने में यूपी सरकार फेल रही है. इन्हें धमका कर कागजों पर दस्तखत करवाए गए हैं.”

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें