Gujarat Exclusive > गुजरात > यूपी में बढ़ी कोरोना संक्रमण की रफ्तार, अब होम आइसोलेशन में रह सकेंगे संक्रमित

यूपी में बढ़ी कोरोना संक्रमण की रफ्तार, अब होम आइसोलेशन में रह सकेंगे संक्रमित

0
442

उत्तर प्रदेश में कोरोना महामारी के कारण हालात बेकाबू होते जा रहे हैं. लगातार दो हजार के आस-पास रोज नए मामले आ रहे हैं. यूपी में बीते 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 1924 मामले सामने आए हैं. इस दौरान 46 मरीजों की मौत भी हुई है. प्रदेश में कोरोना से मरने वाले मरीजों की संख्या बढ़कर 1192 हो गई है. इसी बीच राज्य में अब होम आइसोलेशन की सुविधा दे दी गई है.

उत्तर प्रदेश में कोरोना मरीजों के होम आइसोलेशन को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दिशा-निर्देश जारी किया है. राज्य सरकार निर्धारित प्रोटोकॉल की शर्तों के साथ कोरोना मरीजों को होम आइसोलेशन की अनुमति देगी. बड़ी संख्या में कोरोना के लक्षणरहित संक्रमित लोग बीमारी को छिपा रहे, जिससे संक्रमण बढ़ सकता है.

करना होगा प्रोटोकॉल का पालन

सीएम योगी आदित्यनाथ की ओर से जारी निर्देश के मुताबिक, रोगी और उसके परिवार को होम आइसोलेशन के प्रोटोकॉल का पालन करना अनिवार्य होगा. राज्य सरकार के पास कोविड हॉस्पिटल में पर्याप्त संख्या में कोविड बेड्स मौजूद हैं. कोविड-19 से बचाव के बारे में व्यापक जागरूकता अभियान चलाया जाएगा.

बचाव के लिए बेहतर इम्युनिटी जरूरी

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि बेहतर इम्युनिटी कोविड-19 से बचाव के लिए जरूरी है. कोविड-19 से होने वाली मृत्यु की दर को न्यूनतम स्तर पर लाने के लिए स्वास्थ्य विभाग और चिकित्सा शिक्षा विभाग प्रभावी कार्यवाही करें. संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग प्रत्येक दशा में की जाए. सीएम योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिया कि कोविड अस्पतालों में सभी आवश्यक सुविधाएं सुनिश्चित की जाएं. इसके साथ ही सीएम योगी आदित्यनाथ ने पिछले शनिवार और रविवार को प्रदेश में संचालित विशेष स्वच्छता और सैनिटाइजेशन अभियान में किए गए कार्यों की जानकारी प्राप्त की.

1924 नए मामले, 46 और लोगों की मौत

मालूम हो कि यूपी में कोरोना संक्रमण की रफ्तार काफी तेजी से बढ़ रही है. सोमवार को अपर मुख्य सचिव (चिकित्सा एवं स्वास्थ्य) अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 1924 नए मामले सामने आये हैं, जबकि अभी 19,137 मरीजों का इलाज चल रहा है. अभी तक 30,831 लोगों को स्वस्थ होने के बाद अस्पतालों से छुट्टी दी जा चुकी हैं. पिछले 24 घंटे में 46 और लोगों की मौतों के साथ इस संक्रमण से जान गंवाने वालों की संख्या बढ़कर 1192 हो गई है.

दिल्ली के एम्स में शुरू हुआ पहली स्वदेशी कोरोना वैक्‍सीन का सबसे बड़ा ट्रायल