Gujarat Exclusive > देश-विदेश > गृह मंत्री अमित शाह एम्स में भर्ती, हल्के बुखार के बाद सांस लेने में हो रही दिक्कत

गृह मंत्री अमित शाह एम्स में भर्ती, हल्के बुखार के बाद सांस लेने में हो रही दिक्कत

0
1063

कोरोना को मात देने वाले देश के केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह कल रात 2 बजे सांस लेने में
तकलीफ की वजह से एम्स में भर्ती कराया गया है.

हल्के बुखार के बाद अमित शाह को सांस लेने में परेशानी हो रही थी जिसके बाद
उन्हे देर रात को भी इलाज के लिए एम्स में भर्ती किया गया है.

मिल रही जानकारी के अनुसार एम्स के निदेशक डॉक्टर गणदीप गुलेरिया की
देखरेख में उनका इलाज चल रहा है.

कल देर रात अस्पताल में कराया गया भर्ती 

मिल रही जानकारी के अनुसार उनको इलाज के लिए ओल्ड प्राइवेट वार्ड में रखा गया है.
मिल रही जानकारी के अनुसार हल्का बुखार की वजह से उन्हे कल देर रात
सांस लेने में दिक्कत होने लगी थी.

जिसके बाद फौरन उन्हे इलाज के लिए एम्स में भर्ती कराया गया. फिलहाल एम्स के निदेशक डॉक्टर गणदीप गुलेरिया की अगुवाई में
एक टीम अमित शाह की इलाज कर रही है.

यह भी पढ़ें: गृह मंत्री अमित शाह की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव, अब होम आइसोलेशन में रहेंगे

14 अगस्त को कोरोना की रिपोर्ट आई थी निगेटिव 

14 अगस्त को गृह मंत्री अमित शाह की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आई थी. जिसकी जानकारी उन्होंने खुद ट्वीट कर दी थी.”आज मेरी कोरोना टेस्ट रिपोर्ट नेगेटिव आई है.
मैं ईश्वर का धन्यवाद करता हूं और इस समय जिन लोगों ने मेरे स्वास्थ्यलाभ के लिए
शुभकामनाएं देकर मेरा और मेरे परिजनों को ढाढस बंधाया उन सभी का ह्रदय से आभार व्यक्त करता हूं.

डॉक्टर्स की सलाह पर अभी कुछ और दिनों तक होम आइसोलेशन में रहूंगा.”

2 अगस्त से अस्पताल में भर्ती

कोरोना वायरस संक्रमण के चलते शाह गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती थे. दो अगस्त को गृह मंत्री अमित शाह ने खुद ट्वीट कर जानकारी दी थी कि उन्हें कोविड संक्रमण हुआ है.

गृह मंत्री ने अपने ट्वीट में लिखा था, ‘कोरोना के शुरूआती लक्षण दिखने पर मैंने टेस्ट करवाया और रिपोर्ट पॉजिटिव आई है.

मेरी तबीयत ठीक है परन्तु डॉक्टर्स की सलाह पर अस्पताल में भर्ती हो रहा हूं. मेरा अनुरोध है कि आप में से जो भी लोग गत कुछ दिनों में मेरे संपर्क में आयें हैं, कृपया स्वयं को आइसोलेट कर अपनी जांच करवाएं.’

अमित शाह कोरोना संक्रमित होने की वजह से राम मंदिर शिलान्यास में नहीं जा पाए थे.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

प्रणब मुखर्जी की हालत स्थिर, बेटे अभिजीत ने कहा- जल्द होंगे हमारे बीच