Gujarat Exclusive > गुजरात > नवसारी सिविल अस्पताल की नर्स ने की आत्महत्या, परिजन प्रताड़ित करने का लगाया आरोप

नवसारी सिविल अस्पताल की नर्स ने की आत्महत्या, परिजन प्रताड़ित करने का लगाया आरोप

0
574

नवसारी सिविल अस्पताल में कोरोना वारियर्स के रूप में काम करने वाली नर्स ने आत्महत्या कर लिया. जानकारी सामने आने के बाद हड़कंप मच गया. नर्स ने आत्महत्या करने से पहले एक सुसाइड नोट लिखा.

परिवार के सदस्यों ने सिविल अस्पताल में ड्यूटी पर रहने के दौरान उसे प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है.

साथ ही परिवार ने जब तक आत्महत्या के लिए मजबूर करने वाले लोगों के खिलाफ कार्रवाई नहीं की जाती तबतक शव को स्वीकार नहीं करने का फैसला किया है.

परिवार ने अस्पताल प्रशासन पर प्रताड़ित करने का लगाया आरोप

मिल रही जानकारी के अनुसार, विजलपोर के जलाराम सोसाइटी में रहने वाली एक 28 वर्षीय युवती नवसारी सिविल अस्पताल में नर्स का काम करती थी.

हादसे की जानकारी मिलने पर विजलपोर पुलिस मौके पर पहुंची और आगे की जांच कर रही है. पुलिस ने नर्स के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए नवसारी सिविल अस्पताल भेज दिया है.

पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट मिलने के बाद पुलिस आगे की जांच करेगी.

नवसारी नर्स आत्महत्या मामले में अवसाद के कारण 28 वर्षीय नर्स ने आत्महत्या करने की जानकारी पुलिस की प्राथमिक जांच में सामने आ रही है.

लेकिन परिवार के सदस्यों ने आरोप लगाया कि सिविल अस्पताल के अधिकारियों की प्रताड़ना के कारण उसने आत्महत्या की. पुलिस आत्महत्या करने वाली नर्स के सुसाइड नोट को बरामद कर लिया है.

रात में किया आत्महत्या

विजलपोर शहर में मौजूद जलाराम सोसाइटी में रहने वाली एक 28 वर्षीय नर्स ने अपने घर में कल रात आत्महत्या की ली. मृतक नर्स नवसारी सिविल अस्पताल में कोरोना वारियर्स के रूप में काम करती थी.

मृतक का नाम आचार्य मेघा राजेंद्र भाई के रूप में सामने आया है. आत्महत्या करने से पहले उसने 5-पेज का सुसाइड नोट भी लिखा था.

पुलिस मृतक नर्स के परिजान का बयान दर्ज कर मामले की जांच कर रही है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

बनासकांठा हत्याकांड की सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट में होगी, आरोपी को मिलेगी कड़ी सजा: प्रदीप सिंह