Gujarat Exclusive > देश-विदेश > तालाबंदी के बाद देश में कैसे होगा काम, मोदी सरकार बना रही है रणनीति

तालाबंदी के बाद देश में कैसे होगा काम, मोदी सरकार बना रही है रणनीति

0
1741

3 मई यानी लॉकडाउन के बाद देश में किस तरह कामकाज होगा, मोदी सरकार इसका खाका तैयार कर रही है. अभी पूरे देश में 3 मई तक लॉकडाउन लागू हैं और धीरे-धीरे सरकार इसमें ढील दे रही है. अधिक सख्‍ती उन इलाकों में हो रही है, जो हॉटस्‍पॉट हैं. सरकार के सूत्र बता रहे हैं कि लॉकडाउन के बाद कम लोगों से अधिक कामकाज कराने की रणनीति बनाई जा रही है, ताकि कोरोना का कोहराम कायम न हो और देश की अर्थव्‍यवस्‍था पटरी पर लौट आए. हालांकि यह अभी तय नहीं हुआ है कि लॉकडाउन को 3 मई के बाद आगे बढ़ाया जाएगा या नहीं. फिर भी सरकार लॉकडाउन के बाद के हालात पर लगातार अलग-अलग ग्रुपों में चर्चा कर रही है.

20 अप्रैल को केंद्र सरकार ने कृषि और इंडस्ट्रियल क्षेत्रों में छूट दी थी और आज रमजान के पहले दिन मॉल्‍स और मल्‍टीप्‍लेक्‍स को छोड़कर छोटी दुकानों को खोलने की छूट दे दी है. यह भी कहा जा रहा है कि 3 मई के बाद कई और सेक्‍टरों में छूट मिल सकती है.

बताया जा रहा है कि ऑफिसों में अधिक से अधिक स्‍टाफ को घर से काम करने के लिए कहा जा सकता है. फैक्ट्रियों में कामकाज शुरू हो सकता है पर शिफ्ट की टाइमिंग को बढ़ाकर सोशल डिस्टेंसिंग पर ज़ोर देने की बात हो रही है और संभावना है कि इसके लिए जल्‍द ही गाइडलाइन जारी किए जाएंगे. इस बात की संभावना कम ही है कि लॉकडाउन के बाद सरकार शादी या किसी धार्मिक आयोजन की छूट दे.

लॉकडाउन बढ़ेगा या नहीं, कब तक बढ़ेगा, किस सेक्‍टरों को छूट दी जाएगी और किसको नहीं दी जाएगी, इस पर आखिरी फैसला पीएम नरेंद्र मोदी लेने वाले हैं. सरकारी सूत्रों का कहना है कि 15 मई के बाद ही भारत में कोरोना की असली तस्वीर साफ होगी. उस समय यह कोरोना संक्रमण के घटने या बढ़ने के पूरे आंकड़ें और ट्रेंड मिल जाएंगे. फिलहाल भारत में 24 हजार से ज्यादा लोग कोरोना से संक्रमित हैं. जबकि देश भर में अब तक 700 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है.

कोरोना के लिए कीटाणुनाशक इंजेक्शन लगाने वाले बयान से मुकरे ट्रंप, बोले- मैं तो मजाक कर रहा था