Gujarat Exclusive > देश-विदेश > कच्चे तेल की कीमतों में भारी गिरावट, कांग्रेस की मांग कितना हुआ फायदा जनात से करें साझा

कच्चे तेल की कीमतों में भारी गिरावट, कांग्रेस की मांग कितना हुआ फायदा जनात से करें साझा

0
724

कोरोना वायरस के खिलाफ जारी 21 दिनों के लॉकडाउन के बीच अब कांग्रेस केंद्र सरकार पर हमलावर हो गई है. कांग्रेस ने अपील की है कि सरकार कच्चे तेल की कीमतों में आई कमी से हुए फायदे को जनता के साथ साझा करे. दरअसल, इन दिनों अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में भारी गिरावट आई है. ऐसे में कांग्रेस का कहना है कि सरकार को इस गिरावट से जो फायदा हो रहा है, उसे वह लोगों के साथ साझा करे.

पार्टी प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने यह दावा भी किया कि पिछले छह वर्षों में सरकार को पेट्रोल एवं डीजल के जरिए 20 लाख करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ है. उन्होंने वीडियो लिंक के माध्यम से संवाददाताओं से कहा, ‘आज कच्चे तेल की कीमत 23 डॉलर प्रति बैरल हो गई है. अगर छह वर्षों में कीमत में गिरावट और उत्पाद शुल्क का मिलाकर हिसाब लगाया जाए तो सरकार को कुल 20 लाख करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ है.

सिंघवी ने कहा, ‘आज पेट्रोल की कीमत 70 रुपये से अधिक और डीजल की कीमत करीब 65 रुपये है. यह किस प्रकार का लगान है? अंग्रेजों ने भी अकाल के समय लगान नहीं ली थी. उन्होंने कहा कि यह पेट्रोल और डीजल पर मुनाफा कमाने का समय नहीं, बल्कि जनता के साथ मुनाफा साझा करने और उनका ख्याल रखने का है. सिंघवी ने कहा कि सरकार को इस मुनाफे का एक हिस्सा आमजन के साथ साझा करना चाहिए.

एम्स डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया ने कहा, देश के कई हिस्सों में कोरोना तीसरी स्टेज पर पहुंचा