Gujarat Exclusive > गुजरात > CM रुपाणी का अहम फैसला, जेल से बाहर आएंगे कैदी, तालाबंदी से किसानों को छूट

CM रुपाणी का अहम फैसला, जेल से बाहर आएंगे कैदी, तालाबंदी से किसानों को छूट

0
999

कोरोना संक्रमण के भय से लॉकडाउन के बीच गुजरात के मुख्‍यमंत्री विजय रूपाणी ने जेलों में बंद 1200 कैदियों को दो माह के पैरोल पर छोड़ने का फैसला किया है. गुजरात में रवी पाक फसल की कटाई का समय है, इसलिए सरकार ने किसानों को फसल की कटाई, थ्रेसर, हार्वेस्‍टर आदि साधनों को लाने ले जाने व किसानों व श्रमिकों को इस दौरान आने-जाने की छूट दी है. किसान फसल व फल सब्‍जी को गोदाम व मार्केट में भी ले जा सकेंगे.

मुख्‍यमंत्री के सचिव अश्विनी कुमार ने बताया कि सुप्रीम कोर्ट के निर्देशानुसार राज्‍य की जेलों में बंद 1200 कैदियों को पैरोल पर दो माह की अंतरिम जमानत पर छोड़ने का फैसला किया है. लॉकडाउन के दौरान लोगों को आवश्‍यक वस्‍तुओं की आपूर्ति हो रही है, इसकी लगातार मॉनिटरिंग की जा रही है. जरूरतमंद लोगों को राशन, तैयार खाना व फूड पैकेट भी सरकार उपलब्‍ध करा रही है.

उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि राज्‍यभर में साढ़े पांच लाख फूड पैकेट का वितरण किया गया. वहीं, एफसीआइ गोदाम में 6,45 लाख मैट्रिक टन तथा नाफेड के पास छह हजार मैट्रिक टन दाल का संग्रह रखा है. केंद्र से मंजूरी के बाद जोमेटो व स्‍वीगी ने गुजरात में फूड की होम डिलीवरी शुरू कर दी है.

गुजरात में पेट्रोल पम्प कर्मियों का फैसला, खाली हाथ लौटेंगे मास्क नहीं पहनने वाले