Gujarat Exclusive > देश-विदेश > खत्म नहीं हो रही इमरान की बौखलाहट, मलेशिया दौरे के लिए नहीं करेंगे भारतीय हवाई क्षेत्र का इस्तेमाल

खत्म नहीं हो रही इमरान की बौखलाहट, मलेशिया दौरे के लिए नहीं करेंगे भारतीय हवाई क्षेत्र का इस्तेमाल

0
280

इस्लामाबाद : जब से पुलवामा हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान को उसकी भाषा में जवाब देना शुरू किया है, तब से पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की बौखलाहट खत्म होने का नाम नहीं ले रही है. ताजा मामले में इमरान खान ने मलेशिया जाने के लिए के लिए भारतीय हवाई क्षेत्र का इस्तेमाल नहीं करने का फैसला किया है. एआरवाइ न्यूज ने सूत्रों के हवाले से इसकी जानकारी दी गई है. इमरान आज दो दिन के दौरे पर मलेशिया जाएंगे. उन्होंने फैसला किया है कि वे भारतीय हवाई क्षेत्र का इस्तेमाल नहीं करेंगे. यह फैसला उन्होंने जम्मू कश्मीर के हालात के ध्यान में रखकर किया है.

पाकिस्तान के विदेश कार्यालय ने रविवार को कहा, ‘ पीएम खान 3-4 फरवरी को मलेशिया के प्रधानमंत्री महातिर मोहम्मद के निमंत्रण पर मलेशिया का दौरा कर रहे हैं.’ खान के साथ एक उच्च स्तरीय प्रतिनिधिमंडल भी शामिल होगा, जिसमें कैबिनेट के सदस्य और वरिष्ठ अधिकारी शामिल होंगे.

पुलवामा हमले के बाद बढ़ा तनाव

पिछले साल फरवरी में जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आतंकी हमले के बाद दोनों देशों में तनाव जारी है. यह हमला पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन जैश -ए-मुहम्मद ने कराया था. इसमें सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे. इसके बाद भारत ने पाकिस्तान में आतंकी ठिकानों पर हवाई हमले किए थे. इसके बाद पिछले साल 5 अगस्त को भारत सरकार ने जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने और इसे दो भाग (जम्मू-कश्मीर और लद्दाख) में बांटने का फैसला लिया था. इसने दोनों देशों के बीच तनाव को और बढ़ा दिया. पाकिस्तान इस फैसले से इतना बौखलाया कि उसने भारत के साथ राजनायिक संबंध को कम कर दिया था.

भारत को नहीं दी हवाई क्षेत्र के इस्तेमाल की इजाजत

इसके बाद से पाकिस्तान ने कई अवसरों पर, राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित भारतीय नेताओं को विदेश यात्रा के दौरान अपने हवाई क्षेत्र का उपयोग करने की अनुमति नहीं दी. भारत भी इसे लेकर कई बार पाकिस्तान को उसी की भाषा में जवाब दे चुका है. पिछले साल अक्टूबर में भारत ने अपने हवाई क्षेत्र पर पीएम मोदी की विशेष उड़ान की अनुमति से इन्कार करने के पाकिस्तान के कदम का मामला अंतरराष्ट्रीय नागरिक उड्डयन संगठन (ICAO) में उठाया था. मालूम हो कि पिछले साल फरवरी में जब भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान के बालाकोट में एयर स्ट्राइक को अंजाम दिया था तो पाकिस्तान ने एयर स्पेस को पूरी तरह बंद कर दिया था.