Gujarat Exclusive > देश-विदेश > बिहार के बेगूसराय में युवक को कोरोना होने की पुष्टि, प्रशासन ने सील कर दिया गांव

बिहार के बेगूसराय में युवक को कोरोना होने की पुष्टि, प्रशासन ने सील कर दिया गांव

0
383

बिहार के बेगूसराय में कोरोना पॉजिटिव का पहला मरीज मिलते ही स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया है. दरअसल, बरौनी थाना क्षेत्र में 21 मार्च को दुबई से लौटे एक युवक का जांच के लिए 29 मार्च को सैंपल भेजा गया था, जहां देर रात रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया. आनन-फानन में पॉजिटिव रिपोर्ट आए मरीज और उसके 18 परिजनों को स्वास्थ्य विभाग और जिला पुलिस की टीम घर से सदर अस्पताल लाई. स्वास्थ्य विभाग मरीज के 18 परिजनों का सैंपल जांच के लिए पटना भेज रही है. फिलहाल कोरोना वायरस के पॉजिटिव मरीज के परिजन को सदर अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है, जबकि पॉजिटिव मरीज को इलाज के लिए पटना भेजा गया है.

इस बीच एसडीओ और डीएसपी ने गांव का जायजा लेकर गांववालों घरों में रहने की सख्त हिदायत दी है. इसके साथ ही गांव के रास्ते को बांस बल्ला लगा कर सील कर दिया गया है. गांव के मुख्य रास्ते पर पुलिस बल की तैनाती की गई है. बताया जाता है कि सरकार के निर्देश पर 21, 22 और 23 मार्च को विदेश से आए लोगों का कोरोना टेस्ट करवाना था, उसी में इस युवक की टेस्ट कराई गई थी.

डीएम अरविंद कुमार वर्मा ने बताया कि इसी मरीज में कोरोना का कोई सिस्टम नहीं था, इसका सैंपल लेकर इसे घर भेज दिया गया था. हम रिपोर्ट आने के बाद एहतियात के सारे कदम उठाए जा रहे हैं. पुलिस दुबई से पटना और पटना से बेगूसराय साथ यात्रा करने वालों की सूची बना रही है. पुलिस ने उस स्कॉर्पियो वाहन को भी जब्त किया है, जिससे मरीज पटना से अपने घर आया था. पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बाद गांव में भी सन्नाटा छाया हुआ है. मरीज के पड़ोस के गांव वालों ने भी एहतियात के तौर पर बांस बल्ला लगाकर रास्ते को बंद कर दिया है,, ताकि कोई बाहरी लोग वहां नहीं आ पाए.

कोरोना को लेकर शुरु हुई सियासत, हरियाणा में सैनिटाइजर पर छपी सीएम-डिप्टी सीएम की फोटो