Gujarat Exclusive > गुजरात > आबू में पर्यटकों की बढ़ी संख्या, होटलों में लगे हाउसफुल के बोर्ड

आबू में पर्यटकों की बढ़ी संख्या, होटलों में लगे हाउसफुल के बोर्ड

0
407
  • शराब की दुकानों में पर्यटकों की भीड़ से बढ़ा संक्रमण का खतरा

  • होटल का किराया कम होने पर आबू की सैर पर निकले गुजराती

  • बढ़ती संख्या की वजह से बढ़ा कोरोना का खतरा

अहमदाबाद: गुजरात में कोरोना का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है. पूरे देश में लागू अनलॉक-2 खत्म होने वाला है. जिसके बाद केंद्र और राज्य सरकारें अनलॉक -3 की तैयारी कर रही है.

अनलॉक -2 के दिशानिर्देश के अनुसार एक राज्य से दूसरे राज्य की यात्रा की जा सकती है. इसका फायदा उठाते हुए बड़ी संख्या में गुजरात के लोग आबू की सैर करने के लिए रवाना हुए है.

पिछले कुछ दिनों से आबू जाने वाले गुजरातियों की संख्या में वृद्धि दर्ज की गई है जिसकी वजह से वहां की लगभग तमाम होटलें में हाउसफुल के बोर्ड लग गए हैं.

इतना ही नहीं शराब की दुकानों पर भी लोगों की भारी भीड़ दिखाई दे रही है.

यह भी पढ़ें: गुजरात में दोपहर बाद तालाबंदी! जानें किन शहरों और गांवों में होगा लागू

राजस्थान की बॉर्डर सील होने पर फंसे लोग

राजस्थान सरकार ने बॉर्डर को सील कर दिया है जिसकी वजह से आबू की ओर जाने वाली गुजराती रास्ते में फंस गए हैं.

वहीं आबू की सैर करने गए गुजरात के लोग बड़ी संख्या में आबू में फंसे हुए हैं.

आबू में बढ़ी पर्यटकों की संख्या 

आबू में पर्यटकों की संख्या बढ़ने की वजह से कोरोना का संक्रमण बढ़ने की उम्मीद जताई जा रही है.

तालाबंदी और अनलॉक के बावजूद भी कोरोना पर अभी तक काबू नहीं पाया गया.

खाने-पीन और घूमने के शौकीन गुजराती कोरोना कहर के खतरे के बीच माउंट आबू जा रहे हैं. जिसकी वजह से आबू की ज्यादातर होटल हाउसफुल हो गई हैं.

शराब की दुकानों पर प्रवासियों की संख्या बढ़ने की वजह से कोरोना संक्रमण फैलने का खतरा बढ़ गया है.

शुक्रवार से रविवार तक इन 3 दिनों में गुजरात के बड़ी संख्या में लोग माउंट आबू जाने के लिए रवाना हुए हैं.

मिल रही जानकारी के अनुसार कोरोना की वजह से पैदा हुई बेरोजगारी की वजह से होटल के किराए को कम कर दिया गया है. इस वजह से भी गुजरात के लोग आबू की तरफ रवाना हो रहे हैं.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

अहमदाबाद में पुलिस इंस्पेक्टर के कथित हप्ताखोरी का लगा पोस्टर