Gujarat Exclusive > देश-विदेश > देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या आधा करोड़ के पार, दर्ज हुए 92 हजार से ज्यादा नए मामले

देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या आधा करोड़ के पार, दर्ज हुए 92 हजार से ज्यादा नए मामले

0
591
  • देश में बेलगाम हुआ कोरोना
  • बीते 24 घंटों में दर्ज हुए 92 हजार से ज्यादा नए मामले
  • एक बार फिर से इस दौरान 11 सौ से ज्यादा लोगों की मौत
  • देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या आधा करोड़ के पार
  • दुनिया में सबसे ज्यादा नए मामले भारत हो रहे हैं दर्ज

देश में कोरोना वायरस का कहर दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है. एक तरफ दुनिया में कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित देशों की लिस्ट में पहले स्थान पर मौजूद अमेरिका में नए मामलों की संख्या में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है.

वहीं दूसरी तरफ भारत में लगातार नए मामले रिकॉर्डतोड़ स्तर पर दर्ज हो रहे हैं.

एक बार फिर से बीते 24 घंटों में भारत में पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा कोरोना के नए मामले दर्ज किए गए हैं.

जिसके बाद देश में संक्रमितों की संख्या आधा करोड़ के पार पहुंच गई है.

बीते 24 घंटों में दर्ज हुए 92 हजार से ज्यादा नए मामले

रविवार सुबह स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी ताजा आकड़ों के मुताबिक देश में बीते कोरोना के 92,605 नए मामले सामने आए हैं.

इस दौरान देश में 1133 कोरोना संक्रमितों की मौत भी हुई है. जिसके बाद देश में अब कुल कोरोना संक्रमितों की संख्या 54 लाख के पार पहुंच गई है.

वहीं इस वायरस की वजह से 86,752 लोगों की मौत हो चुकी है. लेकिन इस बीच राहत की बात ये है कि देश में 24 घंटों में नए मामलों के तुलना से स्वस्थ हुए लोगों की संख्या ज्यादा है.

यह भी पढ़ें: गुजरात में कोरोना के रिकॉर्ड 1432 नए केस मिले, 24 घंटे में 16 की मौत

एक्टिव मामलों की संख्या 10 लाख के पार

एक तरफ जहां देश में कोरोना के नए मामले हर दिन रिकॉर्ड बना रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ एक्टिव मामलों की संख्या में भी लगातार वृद्धि दर्ज की जा रही है.

स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी ताजा आंकड़ों के मुताबिक देश में एक्टिव मामलों की संख्या संख्या 10 लाख 10 हजार के पार पहुंच गई है.

वहीं 43 लाख लोग कोरोना को मात देने में कामयाब हुए हैं.

स्वस्थ हुए लोगों की संख्या में दर्ज की जा रही है वृद्धि

देश में कोरोना के बढ़ते कहर के बीच राहत की खबर सामने ये आ रही है कि रिकवरी रेट में हर दिन वृद्धि दर्ज की जा रही है.

देश में एक्टिव मामलों की संख्या में स्वस्थ हुए लोगों की संख्या करीब गुना ज्यादा हो गई है. मंत्रालय ने यह भी दावा कि देश में कोरोना से मृत्यु की दर दुनिया के औसत से कम है इतना ही नहीं इसमें लगातार गिरावट भी दर्ज की जा रही है.

देश में कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर विशेषज्ञों का मानना है कि देश में टेस्ट की संख्या में इजाफा करना और अर्थव्यवस्था को एक बार फिर से खोल देना.

क्योंकि ज्यादातर लोग कोरोना को लेकर सरकारी दिशा-निर्देशों का पालन नहीं करते इसलिए भारी संख्या में लोग कोरोना की चपेट में आ रहे हैं.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

IPL 2020 का शानदार आगाज, चेन्नई ने मौजूदा चैंपियन मुंबई को हराया