Gujarat Exclusive > राजनीति > विपक्ष ने चीन सीमा पर जवानों की शहादत को लेकर सरकार से मांगा स्पष्टीकरण

विपक्ष ने चीन सीमा पर जवानों की शहादत को लेकर सरकार से मांगा स्पष्टीकरण

0
966

भारत-चीन सीमा पर विवाद गहराता जा रहा है. इस बीच मंगलवार को भारत और चीन के सैनिकों के बीच गलवान घाटी के पास हिंसक झड़प हुई है. इस झड़प में भारतीय सेना के एक अफसर और दो जवान शहीद हो गए हैं. इसके साथ ही विपक्ष इस मुद्दो को लेकर सरकार पर हमलावर हो गया है. सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सरकार से इस पूरे मामले पर स्पष्टीकर देने की मांग की है. उधर इस मसले पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने तीनों सेनाध्यक्षों से बात की है.

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने मंगलवार को ट्वीट कर लिखा कि गलवान वैली, लद्दाख से चीनी मुठभेड़ में हमारे कमांडिग ऑफ़िसर और दो सैनिकों की शहादत का समाचार मिला है. भावपूर्ण नमन. सरकार से इन हालातों में भारत-चीन सीमा पर वास्तविक स्थिति के स्पष्टीकरण की अपेक्षा है.

 

वहीं जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला की ओर से ट्वीट में लिखा गया कि अगर सैनिक वापसी के दौरान की प्रक्रिया में हमारे तीन जवान शहीद हो गए हैं, तो युद्ध की परिस्थिति में क्या होगा. इसके अलावा AIMIM के नेता असदुद्दीन ओवैसी ने भी ट्वीट कर सवाल किया है. ओवैसी ने कहा है कि अगर ये हुआ है तो सरकार को तुरंत सफाई देनी चाहिए और देश को मामले की सच्चाई बताना चाहिए.

मंगलवार को हुई इस घटना को लेकर सेना की ओर से बयान जारी किया गया है. भारतीय सेना की ओर से जारी किए गए आधिकारिक बयान में कहा गया है, ‘गलवान घाटी में सोमवार की रात को डि-एस्केलेशन की प्रक्रिया के दौरान भारत और चीन के सैनिकों के बीच हिंसक झड़प हुई. इस दौरान भारतीय सेना के एक अफसर और दो जवान शहीद हो गए हैं. दोनों देशों के वरिष्ठ सैन्य अधिकारी इस वक्त इस मामले को शांत करने के लिए बड़ी बैठक कर रहे हैं’.

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन की कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट आई निगेटिव