Gujarat Exclusive > हमारी जरूरतें > रिजर्व बैंक की मॉनिटरी पॉलिसी रिपोर्ट : कोरोना के कारण GDP ग्रोथ का अनुमान लगाना मुश्किल

रिजर्व बैंक की मॉनिटरी पॉलिसी रिपोर्ट : कोरोना के कारण GDP ग्रोथ का अनुमान लगाना मुश्किल

0
484

कोरोना वायरस ने भारतीय अर्थव्यवस्था की कमर तोड़ दी है. खासकर जीडीपी के मोर्चे पर भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने आगाह किया है. वहीं ग्लोबल इकोनॉमी 2020 में धीमी रह सकती है. आरबीआई ने अपनी मॉनिटरी पॉलिसी रिपोर्ट जारी कर दी है. रिपोर्ट में कहा गया है कि कोरोना के चलते दुनियाभर में जिस तरह से लॉकडाउन की स्थिति है, उससे भारत की आर्थिक स्थिति खराब होती जा रही है.

आरबीआई के अनुसार, कोविड-19 की महामारी के कारण वैश्विक उत्‍पादन, सप्‍लाई, व्‍यापार और पर्यटन पर विपरीत असर पड़ेगा, क्योंकि सभी तरह के काम-धंधे बंद हैं. इस अनिश्चितता की वजह से GDP ग्रोथ अनुमान करना फिलहाल मुश्किल है. RBI ने अपनी मॉनिटरी पॉलिसी रिव्यू में लिखा है कि कोरोना वायरस महामारी की वजह से भारत की अर्थव्यवस्था की रिकवरी तेजी से खत्म हो रही है.

हालांकि RBI का कहना है कि अगर कोरोना संकट पर जल्द काबू पा लिया गया तो केंद्रीय बैंक द्वारा उठाए गए कदम से अर्थव्यवस्था में तेजी से रिकवरी होगी. RBI की मानें तो राहत की बात बस इतनी है कि इंटरनेशनल क्रूड प्राइस में नरमी बनी हुई है. लेकिन लॉकडाउन की वजह से मांग कम है.

कोरोना संकट के बीच शेयर बाजार के फिर बहुरे दिन, सेंसेक्स 31 हजार के पार