Gujarat Exclusive > हमारी जरूरतें > 30 सितंबर तक सभी अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर पाबंदी, जारी रहेगी विशेष विमान की सेवा

30 सितंबर तक सभी अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर पाबंदी, जारी रहेगी विशेष विमान की सेवा

0
553

International Flight: देश में कोरोना वायरस के बढ़के मामलों के बीच अब चरणबद्ध तरीके से अनॉक की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है. एक सितंबर से देश में अनलॉक-4 की शुरुआत हो रही है. हालांकि इसमें अंतरराष्ट्रीय उड़ानों (International Flight) को लेकर कोई रियायत नहीं देने का फैसला किया गया है. एक सितंबर से 30 सितबंर तक जारी अनलॉक-4 में भी अंतर्राष्ट्रीय उड़ानों को भी अनुमति नहीं दी जाएगी.

यानी एक सितंबर से 30 सितंबर के बीच अनलॉक-4 के दौरान यात्री न ही देश के बाहर सफर कर सकते हैं और न ही दूसरे देश के यात्री अपने देश में आ सकते हैं.
हालांकि सरकार की ओर चलाए जा रहे विशेष विमान की सेवा जारी रहेगी.

डीजीसीए ने अंतरराष्ट्रीय उड़ानों (International Flight) पर प्रतिबंध 30 सितंबर तक बढ़ा दिया है. महानिदेशालय ने आज एक परिपत्र जारी कर पूर्व में इस संबंध में जारी आदेश की अवधि 31 अगस्त से बढ़ाकर 30 सितंबर कर दी है.

यह भी पढ़ें: देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 36 लाख के पार, दर्ज हुए 78 हजार से ज्यादा नए मामले

इसने स्पष्ट किया है कि कार्गो विमानों और विशेष अनुमति प्राप्त उड़ानों पर यह आदेश लागू नहीं होगा.
साथ ही चुनिंदा मार्गों पर नियमित अंतरराष्ट्रीय उड़ानों (International Flight) की अनुमति भी दी जा सकती है.

22 मार्च से बंद हैं अंतरराष्ट्रीय उड़ानें

उल्लेखनीय है कि कोविड-19 को फैलने से रोकने के लिए देश में अंतरराष्ट्रीय उड़ानों (International Flight) का परिचालन 22 मार्च से बंद है.
घरेलू उड़ानों पर भी 25 मार्च से प्रतिबंध लगाया गया था, लेकिन 25 मई से सीमित संख्या में घरेलू उड़ानें शुरू कर दी गई हैं.

अनलॉक-4 में क्या मिली है रियायत

कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए स्कूल और कॉलेजों को फिलहाल 30 सितंबर 2020 तक बंद रखने का फैसला किया गया है.
हालांकि कंटेनमेंट जोन से बाहर क्लास 9 से 12 के छात्र स्वेच्छा से शिक्षकों से गाइडेंस लेने के लिए अपने स्कूल जा स्कते हैं.
सिनेमा हॉल, स्वीमिंग पूल, एंटरटेनमेंट पार्क, थियेटर (ओपन एयर थियेटर को छोड़कर) और इस तरह की जगहों पर गतिविधियां प्रतिबंधित रहेंगी.

7 सितंबर से मेट्रो की शुरुआत

सात सितंबर से देशभर में मेट्रो सेवा बहाल करने की इजाजत दे दी गई है. वहीं, 21 सितंबर से 100 व्यक्तियों की अधिकतम सीमा के साथ सामाजिक, राजनीतिक और धार्मिक कार्यक्रमों की अनुमति होगी. मार्च से बंद ‘बार’ एक सितंबर से पुन: खोले जा सकेंगे.

गृह मंत्रालय ने एक निर्देश में कहा कि राज्य सरकारें केंद्र से परामर्श किए बगैर स्थानीय लॉकडाउन लागू नहीं करेंगी. ये निर्देश इसलिए अहम है क्योंकि देशभर में अनेक राज्य सरकारों ने कुछ जगहों पर और सप्ताहांत में लॉकडाउन लगा रखा है.

अनलॉक-4 के लिए जारी किए गए दिशा-निर्देशों के अनुसार, 21 सितंबर से 100 व्यक्तियों की अधिकतम सीमा के साथ सामाजिक, राजनीतिक, धार्मिक कार्यक्रमों की अनुमति दी जाएगी.
इस तरह के कार्यक्रमों में मास्क पहनना, सामाजिक दूरी का पालन करना, थर्मल स्कैनिंग और हाथ धोना या सैनिटाइजर का इस्तेमाल करना आवश्यक होगा.

राजनीतिक और अन्य कार्यक्रम आयोजित करने की अनुमति बिहार विधानसभा चुनावों से पहले दी गई है. बिहार में अक्टूबर-नवंबर में विधानसभा चुनाव प्रस्तावित हैं.

देश में कोरोना ने किया हाल बेहाल

मालूम हो कि कोरोना महामारी से सबसे ज्यादा प्रभावित देशों के लिस्ट में शामिल अमेरिका और ब्राजील में नए मामलों की संख्या में कमी दर्ज की जा रही है.

आज देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 36 लाख के पार पहुंच गई है.

स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी ताजा आकड़ों के मुताबिक देश में बीते 24 घंटों में 78,512 कोरोना के नए मामले सामने आए हैं. जबकि इस दौरान 971 लोगों की मौत दर्ज की गई.

देश में बढ़ते कोरोना कहर की वजह से देश में कुल कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 36 लाख के पार पहुंच गई है. इस वायरस की वजह से आज दर्ज होने वाली मौत के बाद देश में अबतक कोरोना की वजह से 64 हजार 469 लोगों की मौत हो चुकी है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें