Gujarat Exclusive > हमारी जरूरतें > 2020 के अंत तक अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर प्रतिबंध, DGCA ने 31 दिसंबर तक बढ़ाई रोक

2020 के अंत तक अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर प्रतिबंध, DGCA ने 31 दिसंबर तक बढ़ाई रोक

0
180

देश में बढ़ते कोरोना संकट के कारण अंतरराष्ट्रीय उड़ानों (International Flights) पर रोक लगी हुई है और अब इस रोक की मियाद इस साल के अंत तक बढ़ा दी गई है. डीजीसीए ने भारत में कॉमर्शियल अंतरराष्ट्रीय उड़ानों (International Flights) की आवाजाही पर रोक 31 दिसंबर तक बढ़ा दी है. यानी देश में 31 दिसंबर तक न कोई कॉमर्शियल अंतरराष्ट्रीय उड़ान (International Flights) भारत से बाहर जाएगी और न ही दूसरे देश से आ सकती है.

हालांकि, इस दौरान वंदे भारत मिशन के तहत जाने वाली खास उड़ानें जारी रहेंगी. इससे पहले डीजीसीए ने इंटरनेशनल फ्लाइट (International Flights) पर रोक 30 नवंबर तक बढ़ाने का आदेश दिया था.

यह भी पढ़ें: न्यूजीलैंड दौरे पर गई पाकिस्तान क्रिकेट टीम के 6 खिलाड़ी कोरोना से संक्रमित

डीजीसीए ने अपने एक नोटिफिकेशन में कहा है, ’26 जून के सर्कुलर में थोड़ा बदलाव करते हुए सक्षम प्राधिकारी द्वारा इस सर्कुलर की वैधता को 30 नवंबर 2020 की रात 11.59 तक आगे बढ़ाया जा रहा है, जो शेड्यूल्ड अंतरराष्ट्रीय कॉमर्शियल यात्री उड़ानों के बारे में है.’

कोरोना संकट अभी भी जारी

देश में कोरोना महामारी का संकट अभी जारी है. इस साल 23 मार्च से कॉमर्शियल अंतरराष्ट्रीय उड़ानों (International Flights) पर प्रतिबंध लगा हुआ है. तब घरेलू विमान सेवाओं को भी बंद कर दिया गया था. लेकिन 25 मई से घरेलू उड़ानें फिर से शुरू कर दी गई थी. मई से ‘वंदे भारत मिशन’ के तहत और जुलाई से द्विपक्षीय ‘एयर बबल’ व्यवस्था के तहत कुछ देशों के लिए विशेष अंतरराष्ट्रीय उड़ान सेवाओं का परिचालन हो रहा है.

मालूम हो कि त्योहारी सीजन के दौरान देश में एक बार फिर से कोरोना अपनी रफ्तार पकड़ ली है. वहीं, विदेशों में भी कोरोना महामारी अभी खत्म नहीं हुआ है. देश में कोरोना के इस बढ़ते केस को कंट्रोल करने के मद्देनजर नागरिक उड्डयन महानिदेशालय द्वारा यह फैसला जारी किया गया है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें