Gujarat Exclusive > यूथ > चेन्नई सुपर किंग्स के एक खिलाड़ी को हुआ कोरोना, 12 स्टाफ भी संक्रमित

चेन्नई सुपर किंग्स के एक खिलाड़ी को हुआ कोरोना, 12 स्टाफ भी संक्रमित

0
644
  • कोरोना रिपोर्ट में संक्रमित होने की खबर
  • 19 सितंबर से शुरू हो रहा है आईपीएल
  • 21 अगस्त को दुबई पहुंची थी चेन्नई की टीम
  • 7 दिन और रहना होगा क्वारंटाइन

IPL Update : इंडियन प्रीमियर लीग के 13वें सत्र से पहले एक बड़ी खबर सामने आ रही है. खबर है कि तीन बार की चैंपियन टीम चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) के कुछ सदस्य घातक कोरोना वायरस टेस्ट में पॉजिटिव पाए गए हैं जिसमें एक खिलाड़ी भी शामिल है.

सूत्रों के मुताबिक टीम के 12 सपोर्ट स्टाफ संक्रमित पाए गए हैं.

दिग्गज महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली टीम सीएसके के लिए इसे एक बड़ा झटका माना जा रहा है जिसके खिलाड़ी शुक्रवार से दुबई में अभ्यास शुरू करने वाले थे.

यह भी पढ़ें: हवाई यात्रा के दौरान खाना परोसने की मिली अनुमति, मास्क नहीं लगाने वालों पर सख्ती

यह जानकारी मिली है कि दुबई पहुंचने के बाद टीम से जुड़े सदस्यों का कोविड-19 टेस्ट किया गया था जो पॉजिटिव आया है.

21 अगस्त को पहुंची थी टीम

दुबई में आईपीएल की शुरुआत 19 सितंबर से होनी है जिसको लेकर चेन्नई की टीम 21 अगस्त को दुबई पहुंची थी.
इसके बाद 7 दिन के लिए पूरी टीम को क्वारैंटाइन किया गया था. चेन्नई की टीम को शुक्रवार से ही प्रैक्टिस शुरू करनी थी. इसी दौरान टीम का एक खिलाड़ी और सपोर्ट स्टाफ के 12 लोग पॉजिटिव आ गए.

अब आगे क्या करना होगा

इसमें सीएसके टीम मैनेजमेंट के सीनियर ऑफिशियल और उनकी पत्नी के अलावा सोशल मीडिया टीम से जुड़े दो मेंबर्स भी शामिल हैं. अब टीम को 7 दिन और क्वारंटाइन में रहना होगा. इसी के चलते अब सपोर्टिंग स्टाफ का क्वारंटीन पीरियड भी बढ़ा दिया गया है. यूएई में हर एक टीम के लिए छह दिनों का क्वॉरंटीन पीरियड है.
इसके बाद चौथा कोरोना टेस्ट होगा. इसकी रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद ही खिलाड़ी ट्रेनिंग शुरू कर पाएंगे. सभी खिलाड़ियों की अब चौथी बार कोरोना की जांच होगी.

5 बार भारतीय खिलाड़ियों को हुआ टेस्ट

यूएई पहुंचने से पहले आईपीएल में हिस्सा ले रहे भारतीय खिलाड़ियों और स्टाफ का 5 बार कोरोना टेस्ट हुआ था. सभी की रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद ही ये लोग यूएई पहुंचे थे.

विदेशी खिलाड़ियों को भी यूएई में आने से पहले 14 दिन क्वारंटाइन किया गया था. साथ ही दो निगेटिव रिपोर्ट के बाद ही वे यूएई के लिए रवाना हुए थे.

सख्त हैं प्रोटोकॉल

यूएई में पहुंच रहे आईपीएल की सभी टीम के खिलाड़ियों और सपोर्ट स्टाफ को ट्रेनिंग में शामिल होने से पहले 7 दिन क्वारंटाइन किया गया था. इस दौरान किसी को होटल में एक-दूसरे से मिलने की इजाजत भी नहीं थी. इस दौरान पहले, तीसरे और छठे दिन सभी का कोरोना टेस्ट हुआ.

फ्रेंचाइजियों ने खिलाड़ियों को अपना परिवार लाने की इजाजत तो दी है, लेकिन उन्हें भी कोरोना प्रोटोकॉल का हर हाल में पालन करना होगा.

परिवार को भी बायो-सिक्योर माहौल के बाहर किसी से मिलने की अनुमति नहीं है. साथ ही अन्य खिलाड़ियों और उनके परिवार से बातचीत के दौरान मास्क लगाना होगा और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना है.

परिवार के सदस्यों को खिलाड़ी के साथ बस में सफर करने की इजाजत नहीं है. ट्रेनिंग और मैच के दौरान स्टेडियम में भी एंट्री नहीं मिलेगी. बायो-सिक्योर रूल का उल्लंघन करने वाले को 7 दिन के लिए क्वारंटाइन रहना होगा. छठे और सातवें दिन कोरोना टेस्ट होगा. रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद ही वे वापस बायो-सिक्योर माहौल में लौट सकेंगे.

टीम ने लगाया था कैंप

यूएई रवाना होने से पहले सिर्फ चेन्नई टीम ने ही अपना ट्रेनिंग कैंप लगाया था.
बाकी सभी टीमें सीधे यूएई के लिए रवाना हुईं थीं. चेन्नई टीम ने चेपॉक स्टेडियम में 5 दिन का कैंप लगाया था. इसमें कप्तान महेंद्र सिंह धोनी, सुरेश रैना, अंबाती रायडू, शार्दुल ठाकुर के अलावा कई और खिलाड़ी मौजूद थे. रविंद्र जडेजा और हरभजन सिंह ने इस कैंप में हिस्सा नहीं लिया था.

यूएई में भी बढ़ रहे कोरोना केस

टीमों को उम्मीद थी कि 20 अगस्त तक आईपीएल का शेड्यूल जारी हो जाएगा. लेकिन, यूएई में बढ़ रहे कोरोना के मामलों को देखते हुए बीसीसीआई ने अब तक कार्यक्रम जारी नहीं किया है. यूएई में अभी तक 68 हजार से ज्यादा कोरोना पॉजिटिव मिल चुके हैं. वहीं 378 लोगों की जान भी जा चुकी है.
इसके बाद से ही वहां की सरकार ने कोरोना प्रोटोकॉल के तहत बाहर से आ रहे यात्रियों की कड़ाई से जांच शुरू कर दी है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

महेश मांजरेकर से अबू सालेम के नाम पर 35 करोड़ की फिरौती मांगने वाला गिरफ्तार