Gujarat Exclusive > देश-विदेश > जामिया फायरिंग: नोबेल विजेता कैलाश सत्यार्थी चिंतित, बोले-खतरनाक फैलने से रोकिये

जामिया फायरिंग: नोबेल विजेता कैलाश सत्यार्थी चिंतित, बोले-खतरनाक फैलने से रोकिये

0
173

देश के हालात को लेकर नोबेल शांति पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी चिंता जताई है. उन्होंने एक ट्वीटकर ऐसे माहौल को खतरनाक बताते हुए इसे रोकने की अपील की है, नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ जामिया मिलिया से छात्रों ने गांधी शहादत दिन के मौके पर एक मार्च का आयोजन किया था. इसी दौरान रामभक्त गोपाल नाम एक नाबालिग ने मार्च कर रहे छात्रों के बीच पहुंचा और ललकारते फायरिंग कर दिया था. इस फायरिंग में जामिया मिल्लिया इस्लामिया का एक स्टूडेंट घायल हो गया.

कैलाश सत्यार्थी ने ट्वीट कर कहा, ‘किशोरों के दिलों में भरी जाने वाली नफरत, असहिष्णुता, हिंसा और सांप्रदायिकता की आग देशभक्ति या मजहब-परस्ती नहीं, सिर्फ तबाही होती है. दुनिया के कई देश इसमें जल रहे है. भारत भी झुलसता रहा है. आज दिल्ली में एक किशोर की पिस्तौल से चली गोली बहुत खतरनाक संकेत है. इसे फैलने से रोकिये!!!’


नोबेल पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी ने इससे पहले जामिया मिल्लिया इस्लामिया परिसर के पुस्तकालय और महिला छात्रावास में घुसकर छात्रों से किए गए दुर्व्यवहार के खिलाफ भी आवाज बुलंद की थी उन्होंने कहा कि जब भी ऐसी आवाजों को दबाया गया है, लोकतंत्र कमजोर हुआ है.