Gujarat Exclusive > देश-विदेश > योशिहिडे सुगा बने जापान के नए प्रधानमंत्री, शिंजो आबे ने बीते दिनों दिया था इस्तीफा

योशिहिडे सुगा बने जापान के नए प्रधानमंत्री, शिंजो आबे ने बीते दिनों दिया था इस्तीफा

0
597
  • शिंजो आबे के करीबी योशिहिदे सुगा बने जापान के नए प्रधानमंत्री
  • 534 में से 377 वोट हासिल कर बने देश के अगले पीएम
  • अपने दो प्रतिद्वंदियों को दी करारी शिकस्त

जापान की संसद ने पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे के करीबी माने जा रहे योशिहिदे सुगा को अपना नया प्रधानमंत्री चुन लिया है.

उनकी जीत उस वक्त ही पक्की हो गई थी जब जापाना की सत्तारुढ़ लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टी ने सुगा को अपने नए नेता के रूप में चुन लिया था.

शिंजो आबे के उत्तराधिकारी को चुनने के लिए होने वाले आंतरिक मतदान में योशिहिदे सुगा ने 534 में से 377 वोट हासिल कर यह कामयाबी हासिल किया.

अपने दो प्रतिद्वंदियों को दी करारी शिकस्त

जापाना का अगला प्रधामनंत्री चुनने के लिए होने वाले आंतरिक मतदान में योशिहिदे सुगा ने अपने दो प्रतिद्वंदियों पूर्व रक्षा मंत्री शिगेरु इशिबा और पूर्व विदेश मंत्री फुमियो किशिदा के खिलाफ जीत हासिल की.

जापान की सत्तारूढ़ लिबरल डेमाक्रेटिक पार्टी को 377 प्राप्त हुए जबकि अन्य दो दावेदारों को 157 वोट हासिल हुए.

यह भी पढ़ें: फेसबुक को मिली आखिरी चेतावनी, नहीं पेश हुआ दिल्ली विधानसभा समिति के सामने

बीते दिनों आबे ने दिया था पीएम पद से इस्तीफा

मिल रही जानकारी के अनुसार जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे पेट की बीमारी से पीड़ित थे. बीते कुछ महीनों से वह इलाज के लिए लगातार अस्पताल जा रहे थे.

जिसके बाद स्थानिक मीडिया ने उनके स्वास्थ को लेकर खबर चलाना शुरू कर दिया था. स्थानिक मीडिया के अनुसार आबे नहीं चाहते थे कि उनके अस्वस्थ होने की वजह से सरकारी काम-काज में किसी प्रकार की दिक्कत आए.

इसलिए उन्होंने 28 अगस्त को एक प्रेस कान्फ्रेंस कर अपने इस्तीफे का ऐलान कर दिया था.

उनकी जगह पर एन प्रधानमंत्री का जिम्मेदारी संभालने वाले योशिहिदे सुगा को आबे का करीबी माना जाता है. मिल रही जानकारी के अनुसार वह आबे की बनाई हुई नीतियों को आगे बढ़ाने का काम करेंगे.

लेकिन उनके सामने सबसे बड़ी चुनौती यह होगी की कोरोना की वजह से ठप्प पड़े जापान के अर्थव्यवस्था को एक बार फिर से पटरी पर लाया जा सके.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Toyota भारत में नहीं बढ़ाएगी अपना व्यापार, कहा- सरकार लेती है ज्यादा टैक्स