Gujarat Exclusive > गुजरात > जूनागढ़ में इंटर्न पशु चिकित्सकों के हड़ताल का 12वां दिन, 1 छात्र की खराब हुई तबीयत

जूनागढ़ में इंटर्न पशु चिकित्सकों के हड़ताल का 12वां दिन, 1 छात्र की खराब हुई तबीयत

0
187

जूनागढ़ में पशु चिकित्सा इंटर्नशिप भत्ता को लेकर इंटर्न पशु चिकित्सक अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए हैं, आज हड़ताल का 12वां दिन है, जबकि बीती रात एक छात्रा की तबीयत बिगड़ गई जिसके बाद उसे इलाज के लिए सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है. जूनागढ़ कृषि विश्वविद्यालय के पशु चिकित्सा विभाग में अध्ययनरत प्रशिक्षु पिछले 12 दिनों से हड़ताल पर हैं, क्योंकि उन्हें गुजरात के अन्य राज्यों की तुलना में कम इंटर्न भत्ता मिलता है. भूख हड़ताल बैठी ममता स्वामी की तबीयत बिगड़ गई जिसके बाद उसे इलाज के लिए सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

हड़ताल कर रहे वेटरनरी इंटर्न छात्रों को इंटर्न भत्ता के नाम पर 140 रुपये से भी कम मिलता है. छात्रों के मुताबिक वेटनरी की डिग्री 5 साल की होती है जिसमें 1 साल की इंटर्नशिप भी शामिल है. इस बीच, राज्य सरकार द्वारा पशु चिकित्सक को उनकी सेवाएं प्रदान करने के लिए 4200 रुपये का भत्ता दिया जाता है. जिसमें कई सालों से कोई वृद्धि नहीं की गई है.

जबकि अन्य राज्यों जैसे राजस्थान में 21,000 और उत्तर प्रदेश में 23,500 और बिहार को 15,000 और पंजाब में भी 15,000 केरल और कर्नाटक को 20,000 स्टाइपेंड दिया जाता है. जिसकी तुलना में गुजरात में सिर्फ 4200 ही दिए जाते हैं. इसलिए पशु चिकित्सा महाविद्यालय के छात्र पशु उपचार परिसर में एकत्रित हो गए हैं और गांधीजी के मार्ग पर चलकर शांतिपूर्ण अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू कर दी है. आज उनके हड़ताल का 12वां दिन है.

आणंद हादसे में 6 लोगों की मौत, कांग्रेस विधायक के दामाद पर लगा हिट एंड रन का आरोप