Gujarat Exclusive > गुजरात > कांग्रेस से बगावत करने वाले जे.वी काकडिया को उपचुनाव में मिली कामयाबी

कांग्रेस से बगावत करने वाले जे.वी काकडिया को उपचुनाव में मिली कामयाबी

0
177

अहमदाबाद: भारतीय जनता पार्टी ने गुजरात में हुए आठ उपचुनावों में भव्य जीत हासिल करने में कामयाब हुई है.

पाटीदारों का गढ़ माने जा रहे धारी में भाजपा के उम्मीदवार जेवी काकडिया को जीत हासिल हुई है.

शुरूआती रुझान में कांटे की टक्कर के बाद अंत में काकडिया को कामयाबी हासिल हुई.

2357 वोटरों ने नोटा का किया इस्तेमाल

धारी में भारतीय जनता पार्टी के जेवी काकड़िया को 49695 वोट मिले, जबकि कांग्रेस के उम्मीदवार सुरेश कोटडिया को 32592 वोट मिले.

भले ही धारी में भाजपा के उम्मीदवार को कामयाबी हासिल हुई है. लेकिन जीत की मार्जिन जरूर कम हो गया है. लेकिन 2357 वोटरों ने नोटा का इस्तेमाल किया है.

17209 मतों से भाजपा उम्मीदवार को जीत हासिल हुई है.

2017 में काकड़िया ने भाजपा के दिलीप संघानी के सामने हासिल की थी जीत

धारी सीट पर जेवी काकडिया आयातित उम्मीदवार हैं. 2017 के विधानसभा चुनाव में, कांग्रेस के उम्मीदवार के रूप में काकडिया ने भाजपा के उम्मीदवार दिलीप संघानी के खिलाफ 18,336 वोटों से जीत दर्ज की.

कथित तौर पर 16 करोड़ रुपये में काकडिया के बिकने का आरोप लगा था. कांग्रेस से गद्दारी करने की वजह से उनके खिलाफ स्थानिक लोगों में गुस्से का माहौल देखने को मिला था.

लेकिन उपचुनाव के परिणाम ने इसका कोई प्रभाव नहीं दिखा.

धारी सीट को कांग्रेस का गढ़ माना जाता है लेकिन गुजरात विधानसभा उपचुनाव में तस्वीर बदल गई. कांग्रेस से विद्रोह कर भाजपा में शामिल होने वाले काकडिया को पार्टी ने मैदान में उतारा था.

स्थानिक लोगों में भारी नाराजगी के बाद भी काकडिया जीत हासिल करने में कामयाब हुए.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

गुजरात उपचुनाव: भाजपा उम्मीदवार आत्माराम परमार की भव्य जीत