Gujarat Exclusive > यूथ > कंगना के खिलाफ मुंबई में मानहानि की शिकायत दर्ज, अभद्र भाषा के प्रयोग का आरोप

कंगना के खिलाफ मुंबई में मानहानि की शिकायत दर्ज, अभद्र भाषा के प्रयोग का आरोप

0
235

बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत (Kangna Ranaut) और महाराष्ट्र सरकार के बीच जारी विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है. एक तरफ जहां अभी बीएमसी द्वारा कंगना के ऑफिस पर हुई कार्रवाई का मामला बॉम्बे हाईकोर्ट में चल ही रहा है कि दूसरी तरफ मुंबई के एक वकील ने कंगना रनौत (Kangna Ranaut) के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई गई है.

मुंबई के विक्रोली थाने में कंगना खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई गई है. शिकायत में कहा गया है कि उन्होंने महाराष्ट्र सीएम के खिलाफ अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया है. बॉम्बे हाईकोर्ट के वकील नितिन माने ने यह शिकायत दर्ज करवाई है.

क्या है आरोप

शिकायत में माने ने लिखवाया है कि कंगना (Kangna Ranaut) ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के खिलाफ अभद्र भाषा का प्रयोग किया है. इस शिकायत को भारदीय दंड संहिता की धारा 499 के तहत दर्ज करवाई गई है. यह मानहानि का मामला है.

यह भी पढ़ें: मुंबई पहुंचते ही कंगना का हमला, कहा- उद्धव ठाकरे तेरा घमंड टूटेगा

वकील ने शिकयत में कंगना (Kangna Ranaut) के उस बयान का हवाला दिया है, जिसे कंगना ने एक वीडियो जारी करके कहा था,”उद्धव ठाकरे तुझे क्या लगता है…कि तूने फिल्म माफिया के साथ मिलकर मेरा घर तोड़ के मुझसे बहुत बड़ा बदला लिया है. आज मेरा घर टूटा है कल तेरा घमंड टूटेगा. ये वक्त का पहिया है याद रखना हमेशा एक जैसा नहीं रहता. और मुझे लगता है कि तुमने मुझपर बहुत बड़ा एहसान किया है.”

अवैध निर्माण के लिए शरद पर निशाना

कंगना रनौत (Kangna Ranaut) के मुंबई स्थिति दफ्तर को बीएमसी ने गिरा दिया था. हालांकि इसको लेकर बॉम्बे हाईकोर्ट ने बीएमसी को फटकार लगई है. उधर कंगना (Kangna Ranaut) के फ्लैट को लेकर भी अब नोटिस आ गया है. इस पर कंगना (Kangna Ranaut) ने कहा कि जिस बिल्डिंग की फ्लैट में वह रहती हैं, उसे एनसीपी नेता शरद पवार से खरीदा गया है. बिल्डिंग से जुड़े विवादों के लिए वे जिम्मेदार नहीं है.

बीएमसी का कहना है कि कंगना रनौत (Kangna Ranaut) जिस फ्लैट में रहती हैं, उसमें अवैध निर्माण हुआ है. इसे लेकर पोस्टर सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल हो रहा है.

कंगना रनौत (Kangna Ranaut) का कहना है कि मामला सिर्फ उनके फ्लैट का नहीं है, बल्कि पूरी बिल्डिंग का है. इसके लिए जवाबदेह वे नहीं, बल्कि शरद पवार हैं. प्राप्त जानकारी के मुताबिक, यह विवाद कंगना और बीएमसी का नहीं है बल्कि इमारत के बिल्डर और महानगर पालिका के बीच है. साल 2018 में बीएमसी द्वारा नोटिस दिया गया था, जिसके बाद इस एक्शन नहीं लेने का स्टे ऑर्डर लिया गया था.

कंगना का उद्धव ठाकरे पर हमला

मुंबई पहुंची कंगना (Kangna Ranaut) ने बीएमसी की कार्रवाई पर सख्त नाराजगी का इजहार किया था. उन्होंने शिवसेना अध्यक्ष और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पर हमला बोलते हुए कहा था कि आज मेरा घर टूटा है कल तेरा घमंड टूटेगा.

बीएमसी के इस कार्रवाई के बाद बौखलाई कंगना रनौत ने आज एक बार फिर से महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पर हमला बोलते हुए ट्वीट किया है.

 

उन्होंने ट्वीट कर लिखा-“तुम्हारे पिताजी के अच्छे कर्म तुम्हें दौलत तो दे सकते हैं मगर सम्मान तुम्हें खुद कमाना पड़ता है, मेरा मुँह बंद करोगे मगर मेरी आवाज़ मेरे बाद सौ फिर लाखों में गूंजेगी, कितने मुंह बंद करोगे?

कितनी आवाज़ें दबाओगे? कब तक सच्चाई से भागोगे तुम कुछ नहीं हों सिर्फ़ वंशवाद का एक नमूना हो.”

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें