Gujarat Exclusive > गुजरात > कांकरिया कार्निवल पर लगा कोरोना का ग्रहण, इस साल नहीं होगा आयोजन

कांकरिया कार्निवल पर लगा कोरोना का ग्रहण, इस साल नहीं होगा आयोजन

0
516
  • पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी की याद में किया जाता है कार्यक्रम
  • इसकी शुरुआत वर्ष 2008 में तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी ने की थी
  • 25 से 31 दिसंबर के बीच होता है कांकरिया कार्निवल

अहमदाबाद: शहर में 2008 से हर साल 25 से 31 दिसंबर के बीच कांकरिया कार्निवाल का आयोजन किया जाता है. लेकिन इस साल कार्निवल पर कोरोना का ग्रहण लग गया है.

अहमदाबाद महापौर बिजल पटेल ने आज इसकी घोषणा की. Kankaria Carnival canceled

अहमदाबाद नगर निगम की ओर से हर साल इसका आयोजन किया जाता था जिसमें लाखों की संख्या में लोग आते थे और अलग-अलग सांसकृतिक प्रोग्राम का तुल्फ उठाते थे.

कांकरिया कार्निवल का नहीं होगा आयोजन

25 दिसंबर को पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का जन्मदिन है, उनकी स्मृति में कांकरिया कार्निवल का आयोजन किया जाता है.

कांकरिया कार्निवल की शुरुआत वर्ष 2008 में तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी ने की थी. कार्निवल हर साल 25 से 31 दिसंबर तक आयोजित किया जाता है.

लेकिन अहमदाबाद नगर निगम द्वारा केंद्र सरकार की गाइडलाइन के अनुसार भीड़ जमा करने पर प्रतिबंध की वजह से यह निर्णय लिया गया है.

यह भी पढ़ें: कर्फ्यू को लेकर रूपाणी सरकार का बड़ा ऐलान, कोरोना पर काबू पाने तक रहेगा नाइट कर्फ्यू जारी

कोरोना गाइड लाइन को लेकर फैसला Kankaria Carnival canceled

इस सिलसिले में जानकारी देते हुए अहमदाबाद महापौर बिजल पटेल ने कहा कि इस साल कांकरिया कार्निवल पर प्रतिबंध लगा दिया गया है. Kankaria Carnival canceled

क्योंकि देश और दुनिया में कोरोना के मामले दिन प्रतिदिन बढ़ते जा रहे हैं. केंद्र सरकार ने कोरोना गाइड लाइन जारी की है और एक जगह पर इकट्ठा होने वाले लोगों की संख्या को सीमित कर दिया है.

अहमदाबाद के लोगों की सुरक्षा और स्वास्थ्य संबंधी चिंताओं को ध्यान में रखते हुए कांकरिया कार्निवल आयोजित नहीं करने का निर्णय लिया गया है. Kankaria Carnival canceled

कांकरिया कार्निवाल पर हर साल करोड़ों रुपये खर्च किए जाते हैं. वर्ष 2017-18 में कार्निवल पर 4 करोड़ रुपये से अधिक खर्च किए गए थे. वर्ष 2018-19 में यह राशि बढ़कर 5.50 करोड़ हो गई.

जबकि वर्ष 2019-20 में कांकरिया कार्निवल पर लगभग 7.50 करोड़ रुपये खर्च किए गए थे. Kankaria Carnival canceled

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

हार्दिक पटेल का हमला, कोरोना से मर रहे हैं लोग और गुजरात सरकार चुप बैठी है