Gujarat Exclusive > देश-विदेश > कर्नाटक कांग्रेस प्रमुख डीके शिवकुमार के ठिकानों पर CBI की छापेमारी

कर्नाटक कांग्रेस प्रमुख डीके शिवकुमार के ठिकानों पर CBI की छापेमारी

0
318
  • शिवकुमार के 15 से ज्यादा ठिकानों पर सीबीआई की छापेमारी
  • छापेमारी में 50 लाख रुपया नकद टीम ने बरामद किया
  • सीबीआई की इस कार्रवाई पर कांग्रेस ने बोला हमला
  • भाजपा पर बदले की सियासत करने का लगाया आरोप

आय से अधिक संपत्ति मामले में कर्नाटक के कांग्रेस अध्यक्ष डीके शिवकुमार पर CBI ने अपना शिकंजा कस दिया है. शिवकुमार के 15 ठिकानों पर सीबीआई की टीम छापेमारी कर रही है.

उनके साथ ही उनके भाई सांसद डीके सुरेश के बंगलूरू स्थित आवास पर भी सीबीआई की टीम ने छापेमारी कर 50 लाख रुपया नकद बरामद किया है.

सीबीआई की छापेमारी को लेकर कांग्रेस ने केंद्र और राज्य सरकार पर हमला बोला है.

आज सुबह 6 बजे से सीबीआई की टीम कर रही है छापेमारी

मिल रही जानकारी के अनुसार सीबीआई की टीम आज सुबह 6 बजे से शिवकुमार और उनके भाई सुरेश के 15 से ज्यादा ठिकानों पर छापेमारी कर रही है.

सीबीआई की टीम में 60 से ज्यादा अधिकारी मौजूद हैं. टीम ने छापेमारी की शुरूआत कनकपुरा निर्वाचन क्षेत्र के डोड्डालहल्ली गांव में स्थित उनके निवास से शुरू की जहां से शिवकुमार विधायक हैं.

मिल रही जानकारी के अनुसार शिवकुमार के करीबी इकबाल हुसैन के घर पर भी सीबीआई की टीम ने धावा बोला है.

इससे पहले ईडी ने किया था गिरफ्तार

इससे पहले ईडी ने कर्नाटक सरकार में मंत्री रहे डीके शिवकुमार को गिरफ्तार किया था. उसके बाद उन्हे तिहाड़ जेल भेज दिया गया था. मामले के बाद शिवकुमार ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था.

शिवकुमार को कोर्ट ने 25 लाख रुपये के निजी मुचलके पर जमानत पर रिहा करने का फैसला सुनाया था.

लेकिन अब सीबीआई की टीम आय से अधिक संपत्ति मामले में कर्नाटक, दिल्ली और मुंबई के कई ठिकानों पर छापेमारी कर रही है.

यह भी पढ़ें: हाथरस के बहाने UP में दंगा कराने की साजिश, सुरक्षा एजेंसियों का दावा बनाई गई थी वेबसाइट

कांग्रेस ने बदले की सियासत करने का लगाया आरोप

सीबीआई के छापेमारी की जानकारी सामने आने के बाद कांग्रेस ने केंद्र की मोदी और येदियुरप्पा सरकार पर जमकर हमला बोला है. कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने इस मामले को लेकर ट्वीट करते हुए कहा

“मोदी और येदियुरप्पा सरकार और भाजपा के फ्रंटल संगठनों यानी सीबीआई-ईडी-इनकम टैक्स को पता है कि इस तरह के कुटिल प्रयासों से कांग्रेस कार्यकर्ताओं और नेताओं को न तो डराया जा सकता है और न ही झुकाया जा सकता है. हम लोगों के लिए लड़ने का संकल्प लेते हैं.”

वहीं इस मामले को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने कहा कि सीबीआई की छापेमारी से उपचुनाव में कांग्रेस को बाधा पहुंचाने की तैयारी की जा रही है. भाजपा प्रतिशोध की राजनीति में लिप्त हैं.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

सत्ता में आते ही कांग्रेस कृषि कानूनों को कूड़ेदान में फेंक देगी: राहुल गांधी