Gujarat Exclusive > देश-विदेश > अगर सरकार कृषि कानून वापस नहीं लेगी, तो लौटा दूंगा खेल रत्न अवॉर्ड: विजेंदर सिंह

अगर सरकार कृषि कानून वापस नहीं लेगी, तो लौटा दूंगा खेल रत्न अवॉर्ड: विजेंदर सिंह

0
147

केंद्र की मोदी सरकार द्वारा कृषि कानून को पास करना अब उसके ही गले की हड्डी साबित हो रही है.  Khel Ratna Award Return

शनिवार को किसान और सरकार के बीच होने वाली पांचवें दौर की बातचीत के बाद भी कोई ठोस हल नहीं निकला जिसके बाद किसानों ने विरोध प्रदर्शन को तेज कर दिया है.

किसान संगठन लगातार सरकार से कानून वापस लेने की मांग कर रही है. लेकिन सरकार इस मामले को लेकर बीच का रास्ता निकालने के लिए लगातार कोशिश कर रही है.

किसानों के समर्थन में कई लोग सामने आ रहे हैं.

बॉक्सर विजेंदर सिंह ने किया बड़ा ऐलान

ओलंपिक पदक विजेता और हरियाणा के बॉक्सर विजेंदर सिंह भी अब किसानों के आंदोलन को समर्थन दिया है.

बॉक्सर विजेंदर सिंह आज दिल्ली-हरियाणा के सिंघु बॉर्डर पर पहुंचकर किसानों को संबोधित किया विजेंदर ने नए कृषि कानून को काला कानून करार देते हुए कहा कि अगर सरकार ने इन कानूनों को वापस नहीं लेती तो वह खेल जगत के सर्वोच्च पुरस्कार राजीव गांधी खेल रत्न अवार्ड को लौटा देंगे.

2008 में मिलेगा था राजीव गांधी खेल रत्न अवार्ड  Khel Ratna Award Return

बॉक्सर विजेंदर सिंह को साल 2009 में राजीव गांधी खेल रत्न से नवाजा गया था. उन्होंने 2008 के बीजिंग ओलिंपिक में कांस्‍य पदक जीतकर इतिहास रचा था.

इससे पहले पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री और अकाली दल के नेता प्रकाश सिंह बादल ने कृषि कानून के विरोध में अपना पद्म विभूषण सम्मान वापस कर दिया था.  Khel Ratna Award Return

बालद ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को खत लिखकर कृषि कानून का विरोध करने वाले किसानों पर होने वाली हिंसा का निंदा करते हुए कहा कि किसानों का अपमान हो रहा है.

इसलिए ऐसा कोई भी सम्मान रखने का कोई फायदा नहीं.  Khel Ratna Award Return

किसानों को साथ मिला पूर्व खिलाड़ियों का  Khel Ratna Award Return

पूर्व भारतीय बास्केटबॉल खिलाड़ी और अर्जुन पुरस्कार विजेता सज्जन सिंह चीमा पंजाब के अन्य खिलाड़ियों से लगातार संपर्क कर रहे हैं.

ताकि वह भी किसानों के समर्थन में रैली कर सकें और एक साथ राष्ट्रपति से मुलाकात कर अपने पुरस्कार लौटा सकें. जानकारी सामने आ रही है कि सज्जन सिंह चीमा को कई पूर्व ओलंपिक और अन्य प्रतियोगिताओं में अवॉर्ड हासिल करने वाले खिलाड़ियों का समर्थन मिला है.  Khel Ratna Award Return

इस नाम में गुरमेल सिंह और सुरिंदर सिंह सोढ़ी का भी नाम शामिल है. देश के पूर्व 30 खिलाड़ियों का कहना है कि वह दिल्ली जाएंगे और अपने अवार्ड राष्ट्रपति भवन के बाहर छोड़ कर आएंगे.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

कृषि कानून के विरोध में पंजाब के पूर्व सीएम प्रकाश सिंह बादल ने लौटाया पद्म विभूषण सम्मान