Gujarat Exclusive > यूथ > ये सेलेब्रिटी टॉयलेट जाने के बाद नहीं धोते थे हाथ, कोरोना ने सबको सिखाया सबक

ये सेलेब्रिटी टॉयलेट जाने के बाद नहीं धोते थे हाथ, कोरोना ने सबको सिखाया सबक

0
1222

लगातार देश और विश्व स्वास्थ्य संगठन की ओर से कोरोना से बचने के लिए बार-बार साबुन से धोने और मुंह-नाक पर हाथ ना लगाने के अलावा सैनेटाइजर के प्रयोग की सलाह दी जा रही है. लोग धीरे-धीरे साफ-सफाई को लेकर सजग भी हो रहे हैं. लेकिन क्या आपको बता है कि दुनिया की आबादी का एक बड़ा हिस्सा ऐसा भी है जो हाथ धोने में यकीन नहीं रखता है. इसमें कुछ सेलेब्रिटी भी शामिल हैं.

अमेरिकी एक्ट्रेस जेनिफर लॉरेंस को भी हाथ धोने में विश्वास नहीं था. ऑस्कर विजेता जेनिफर लॉरेंस ने साल 2015 में एक ऐसा बयान दिया था कि जिसपर बवाल मच गया था. जेनिफर लॉरेंस ने कहा था कि वो बाथरूम जाने के बाद कभी भी हाथ नहीं धोती हैं. जिसके बाद लोगों को हैरानी हुई कि इतनी बड़ी एक्ट्रेस इतना गंदा काम कैसे कर सकती है. हालांकि जेनिफर ने बाद में सफाई देते हुए कहा था कि वो हाथ धोती हैं.

इसके अलावा अमेरिकी न्यूज चैनल फॉक्स न्यूज के एंकर पीट हेगसेथ भी ये कहते हुए सबको हैरान कर दिया था कि उन्हें याद नहीं कि उन्होंने पिछले 10 वर्षों में कब हाथ धोया है. उन्होंने 2019 में कहा था कि मुझे याद नहीं पड़ता कि पिछले दस सालों में मैंने कभी अपने हाथ धोए.

हालांकि कोरोना काल में क्या ये हाथ धोते हैं इस बाबत कोई जानकारी तो नहीं दिया जा सकता है. लेकिन यह बता सकते हैं कि इनके साथ खड़े रहने वाले एक और अमेरिकी हैं. जिन्होंने रेस्टोरेंट में काम करने वालों को बारबार हाथ धोने का दबाव देने के खिलाफ बोला था. 2019 में ही अमेरिका की रिपब्लिकन पार्टी के उत्तरी कैरोलिना राज्य के एक सीनेटर ने कहा था कि जो लोग रेस्टोरेंट में काम करने वालों पर बार-बार हाथ धोने का दबाव डालते हैं ये सही नहीं है. यह नियमों का दुरुपयोग है.

एक सर्वे में यह भी खुलासा हुआ है कि 26.2 प्रतिशत लोग ऐसे हैं जो मल त्याग ने के बाद भी हाथ साबुन से नहीं धोते हैं. वो पानी का प्रयोग करते हैं. यह सर्वे 2015 की है. आज भी कई जगह है जहां संसाधन के अभाव में भी लोग हाथ नहीं धोते हैं. लेकिन कोरोना वायरस से बचना है तो अपनी ये आदत बदलनी होगी. हो सकता है कि कोरोना काल के बाद लोग सफाई पसंद हो जाए