Gujarat Exclusive > देश-विदेश > योगी सरकार का बड़ा फैसला, 30 सितंबर तक सभी आयोजनों पर लगा बैन

योगी सरकार का बड़ा फैसला, 30 सितंबर तक सभी आयोजनों पर लगा बैन

0
328
  • उत्तर प्रदेश में बढ़ा कोरोना का कहर
  • कोरोना के बढ़ते कहर को लेकर योगी सरकार का बड़ा फैसला
  • धार्मिक और सांस्कृतिक कार्यक्रमों के आयोजन पर लगा बैन

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के बढ़ते कहर को मद्देनजर रखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आगामी त्योहारों को लेकर पुलिस-प्रशासन के साथ बैठक के बाद बड़ा फैसला लिया है.

इस फैसले के तहत राज्य में 30 सितंबर तक सार्वजनिक समारोह, धार्मिक उत्सव, राजनीतिक आंदोलन के साथ ही साथ तमाम तरीके की सभाओं पर प्रतिबंध लगा दिया है.

इन नियमों का उल्लंघन करने वाले लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

30 सितंबर तक सभी आयोजनों पर लगा बैन

माना जा रहा है कि योगी सरकार ने इस लिए यह बड़ा फैसला लिया है क्योंकि आने वाले दिनों में दो बड़े त्योहार एक साथ आने वाले हैं.

उत्तर प्रदेश गृह विभाग की ओर से जारी एक आदेश के मुताबिक प्रदेश में 30 सितंबर तक किसी भी जगह पर सार्वजनिक रूप से गणेश उत्सव को लेकर मूर्तियां स्थापित नहीं की जाएंगी.

मोहर्रम के त्योहार को लेकर ताजिया निकाले जाएंगे.

यह भी पढ़ें: JEE-NEET परीक्षा को लेकर जारी हंगामा, NTA ने जारी किया नया दिशानिर्देश

अफवाह पर भी पैनी नजर रखने का निर्देश

अधिकारियों के साथ होने वाली बैठक में योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को सख्त निर्देश दिया कि कोरोना कहर के बढ़ते आतंक को लेकर राज्य में धार्मिक और सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन नहीं होना चाहिए.

इसका पालन अधिकारियों को करानी होगी इतना ही नहीं उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया पर अधिकारी पैनी नजर रखें ताकि अफवाह ना फैलाया जा सके.

उन्होंने अफवाह फैलाने वाले लोगों से सख्ती से निपटने का निर्देश दिया.

उत्तर प्रदेश में बढ़ा कोरोना का आतंक

राज्य में पिछले 24 घंटों में 73 अन्य कोरोना संक्रमितों की मौत दर्ज की गई है. जिसके बाद राज्य में तीन हजार से ज्यादा कोरोना मरीजों की मौत दर्ज की गई है. वहीं इस दौरान 5,124 नए मामले सामने आए हैं.

उत्तर प्रदेश में कोरोना के बढ़ते आतंक के बीच अबतक कुल 9 मंत्री कोरोना की चपेट में आ चुके हैं. जिसमें स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह, राजेंद्र प्रताप, ब्रजेश पाठक, महेंद्र सिंह, धरम सिंह सैनी, उपेंद्र तिवारी के साथ ही साथ अब पंचायती राज मंत्री भूपेंद्र सिंह चौधरी का भी नाम शामिल हो गया है.

कमल रानी और चेतन चौहान का नाम शामिल है. जिसमें से दो मंत्रियों कमल रानी वरुण और चेतन चौहान की कोरोना की वजह से मौत हो गई है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

UP में भीषण सड़क हादसा, दो बसों में आमने-सामने टक्कर से 6 की मौत कई घायल