Gujarat Exclusive > देश-विदेश > दावा- किसान आंदोलन के पक्ष में बोलने के लिए रिहाना को मिले 18 करोड़ रुपये

दावा- किसान आंदोलन के पक्ष में बोलने के लिए रिहाना को मिले 18 करोड़ रुपये

0
333

Latest on Farmers Protest: कृषि कानूनों को लेकर विदेशी हस्तियों के ट्वीट के बाद विवाद बढ़ता ही जा रहा है. पॉपस्टार रिहाना के किसानों के समर्थन वाले ट्वीट को लेकर भारत में कड़ी प्रतिक्रिया देखने को मिली है. इसी बीच अब दावा किया जा रहा है कि रिहाना ने किसान आंदोलन के समर्थन में बोलने के लिए 18 करोड़ रुपये लिए हैं.

द प्रिंट के हवाले से कहा है कि उन्हें एक सूत्र ने बताया कि कनाडा के बाहर के कई राजनीतिक नेता और कार्यकर्ता किसान आंदोलन का समर्थन कर रहे हैं. Latest on Farmers Protest

यह भी पढ़ें: पहली बार सेंसेक्स ने छुआ 51 हजार का आंकड़ा, निफ्टी भी ऑल टाइम हाई पर पहुंचा

द प्रिंट के अनुसार स्काइरॉकेट नामक एक पीआर फर्म ने पॉपस्टार रिहाना को किसान आंदोलन के पक्ष में ट्वीट करने के लिए ढाई मिलियन डॉलर की रकम दी थी. भारतीय रुपए में यह 18 करोड़ रुपए होते हैं. Latest on Farmers Protest

सूत्रों ने द प्रिंट को यह भी बताया कि पर्यावरणवादी ग्रेटा थनबर्ग को दी गई टूलकिट उन्हें ‘स्पून फीडिंग’ करने के दी गई थी और ऐसा देश में बड़े पैमाने पर अशांति फैलाने के लिए किया जा रहा था.

कंगाना ने बताया सस्ता सेलेब्रिटी

इसी मीडिया रिपोर्ट को रिट्वीट करते हुए कंगना रनौत ने शुक्रवार को किए अपने ट्वीट में रिहाना को सस्ता सेलेब्रिटी बताया है. कंगना रनौत ने लिखा,

”इतना कम, इतने की तो मैं अपने दोस्तों को गिफ्ट दे देती हूं….कितने सस्ते हैं ये सब लोग यार हाहाहाहा…. फोर्ब्स इनकम सबसे बड़ी धोखाधड़ी. इनके पास किसी भी हस्तियों के फाइनेंशियल डाटा की कोई जानकारी नहीं है और ना ही पहुंच है. ये अभी स्टार्स के फेक इनकम का दावा करते हैं. अगर मैं झूठ बोल रही हूं तो मुझपर मुकदमा करना देना फोर्ब्स.”

बता दें कि रिहाना ने मंगलवार को ट्वीट कर भारत में चल रहे किसान आंदोलन (Farmers Protest) का समर्थन किया था जिसके जवाब में बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत ने रिहान को लेकर विवादित ट्वीट किए थे. Latest on Farmers Protest

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें