Gujarat Exclusive > देश-विदेश > महाराष्ट्र के भिवंडी में दर्दनाक हादसा, तीन मंजिला इमारत गिरने से 10 लोगों की मौत

महाराष्ट्र के भिवंडी में दर्दनाक हादसा, तीन मंजिला इमारत गिरने से 10 लोगों की मौत

0
477
  • महाराष्ट्र के भिवंडी में तीन मंजिला इमारत गिरने से 10 लोगों की मौत
  • दर्दनाक हादसे के बाद पीएम मोदी और राष्ट्रपति ने दुख का किया इजहार
  • 20 से ज्यादा लोग मलबे में फंसे
  • जारी है राहत और बचाव का कार्य

कोरोना संकट के बीच महाराष्ट्र से एक और दर्दनाक खबर सामने आ रही है. महाराष्ट्र के भिवंडी नगर में आज सुबह तड़के तीन बजे तीन मंजिला इमारत धराशाई होने से सात बच्चों समेत 10 लोगों की मौत हो गई.

जबकि 20 से ज्यादा लोग अभी भी मलबे में फंसे हुए हैं. हादसे की जानकारी मिलने के बाद से ही फायर ब्रिगेड की टीम राहत और बचाव का काम कर रही है.

अभी तक मिली जानकारी के अनुसार मलबे से एक बच्चे सहित पांच लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला गया है.

यह भी पढ़ें: कोरोना के बढ़ते आतंक के बीच अच्छी खबर, नए मामलों की तुलना में स्वस्थ हुए लोगों की संख्या ज्यादा

तीन मंजिला इमारत गिरने से 10 लोगों की मौत

मिल रही जानकारी के अनुसार भिवंडी के पटेल कंपाउंड में मौजूद तीन मंजिला मकान रात में अचानक धराशाई हो गया. यह हादसा उस वक्त हुआ जब लोग गहरी नींद में सो रहे थे.

मिल रही जानकारी के अनुसार फिलहाल स्थानिक नागरिक और मनपा की टीम राहत और बचाव का काम कर रही है और मलबे में फंसे लोगों को सुरक्षित निकालने का काम जारी है.

पीएम मोदी और राष्ट्रपति ने किया ट्वीट

हादसे की जानकारी मिलने के बाद पीए मोदी ने ट्वीट कर दुख का इजहार किया उन्होंने लिखा “महाराष्ट्र के भिवंडी में इमारत ढहने से दुखी हूं. शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना.

घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की प्रार्थना. बचाव अभियान चल रहा है और प्रभावितों को हर संभव सहायता प्रदान की जा रही है.”

महाराष्ट्र के भिवंडी में होने वाले इस दर्दनाक हादसे को लेकर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ट्वीट कर लिखा “महाराष्ट्र के भिवंडी में इमारत गिरने से हुए जानमाल की हानि काफी परेशान करने वाला है.

दुख की इस घड़ी में मेरे विचार और प्रार्थनाएं पीड़ितों के परिवार वालों के साथ हैं. घायलों के जल्दी ठीक होने की कामना करते हैं. स्थानिक अधिकारी राहत और बचाव का कार्य कर रहे हैं.”

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

कृषि विधेयक का विरोध करने वालों पर गिरी गाज, सप्ताह भर के लिए 8 सासंद सस्पेंड