Gujarat Exclusive > यूथ > महेश मांजरेकर से अबू सालेम के नाम पर 35 करोड़ की फिरौती मांगने वाला गिरफ्तार

महेश मांजरेकर से अबू सालेम के नाम पर 35 करोड़ की फिरौती मांगने वाला गिरफ्तार

0
678
  • 2 सितंबर तक पुलिस हिरासत में रहेगा आरोपी
  • मुंबई से सटे दिवा इलाके का निवासी
  • लॉकडाउन में दुकान बंद होने पर मांगी फिरौती

Mahesh Manjrekar News : फिल्म निर्देशक और अभिनेता महेश मांजरेकर को अंडरवर्ल्ड डॉन अबू सलेम के नाम पर धमकी देकर 35 करोड़ रुपये की फिरौदी मांग करने वाले व्यक्ति को गुरुवार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. 

पुलिस ने बताया कि आरोपी 34 वर्षीय एक चाय विक्रेता है.
पुलिस ने कहा कि मुंबई पुलिस की अपराध शाखा के अधिकारियों ने मिलिंद तुलसंकर को महाराष्ट्र के रत्नागिरी जिले में स्थित खेड़ से गिरफ्तार किया.

यह भी पढ़ें: जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने खराब सेहत की वजह से दिया इस्तीफा

इस मामले में दादर पुलिस स्टेशन में केस दर्ज हुआ है. रिपोर्ट के अनुसार मांजरेकर को जिस नंबर से फोन आया वह इसी शख्स के नाम पर रजिस्टर था. फिलहाल पुलिस की टीम इस मामले की जांच कर रही.

आरोपी मुंबई से सटे दिवा इलाके का निवासी है. आरोपी को मुंबई की अदालत में पेश किया गया जहां उसे दो सितंबर तक के लिए पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है.

महेश मांजरेकर ने दादर पुलिस थाने में दो दिन पहले शिकायत दर्ज कराई थी कि एक अज्ञात व्यक्ति ने खुद को अबू सलेम गिरोह का सदस्य बताते हुए उनके मोबाइल पर संदेश भेजे और 35 करोड़ रुपये की मांग की थी.

लॉकडाउन ने बनाया डॉन का गुर्गा!

देश में कोरोना वायरस के कारण लोगों की आर्थिक स्थिति गड़बड़ा गई है लेकिन इस शख्स पर लगता है लॉकडाउन का कुछ ज्यादा ही असर पड़ा है. मुंबई के धारावी में चाय की दुकान चलाने वाले तुलसंकर ने कथित तौर पर पुलिस को बताया कि लॉकडाउन के कारण उसकी दुकान बंद हो गई थी इसलिए उसने पैसे की मांग की.
तुलसंकर ने 23 से 25 अगस्त के बीच भेजे गए संदेश में कथित तौर पर पैसे न देने पर बॉलीवुड निर्देशक को मारने की धमकी दी थी.
आरोपी ने खुद को अबू सलेम के गिरोह का सदस्य बताया था जो 1993 बम धमाके के मामले में जेल में बंद है.

यह भी पढ़ें: गुजरात में कोरोना के 1190 नए मामले, 24 घंटे में 17 ने गंवाई जान

मांजरेकर को जिस मोबाइल फोन से संदेश भेजे गए थे वह बंद कर दिया गया था लेकिन पुलिस ने उसकी स्थिति पता लगा कर गुरुवार को खेड़ तहसील के सखरोली गांव में स्थित एक घर में छापा मारकर तुलसंकर को गिरफ्तार कर लिया.

निरीक्षक सचिन कदम ने बताया कि तुलसंकर ने स्वीकार किया है कि उसने यूट्यूब पर सलेम के वीडियो देखकर साजिश रची थी. एक अन्य अधिकारी ने बताया कि आरोपी को मांजरेकर का मोबाइल नंबर एक वेबसाइट से मिला था जिस पर चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशियों की जानकारी उपलब्ध होती है.

मांजरेकर ने कार्रवाई के लिए जताया आभार

इस गिरफ्तारी के लिए महेश मांजरेकर ने आभार व्यक्त किया है. महेश मांजरेकर ने कहा, ‘मुझे लगभग चार दिन पहले मैसेज मिला और मैसेज भेजने वाले कहा कि मुझे यह पैसा देना होगा नहीं तो वह मेरे परिवार को नुकसान पहुंचाएगा.
मुझे पता था कि यह एक हॉक्स मैसेज था. यह मैसेज इंडियन नंबर से आया था.
मैंने मुंबई पुलिस को सूचित किया और तुरंत कार्रवाई की. इसके लिए आभारी हूं.’

 

यूट्यूब पर सीखा हफ्ता मांगने का तरीका

खबरों के मुताबिक, आरोपी ने यूट्यूब पर अबू सलेम के कई वीडियो देखे और उसके हफ्ता मांगने के तरीकों को अच्छे से समझा.
इसके बाद महेश मांजरेकर को 23 अगस्त से 25 अगस्त के बीच कई बार फोन करके धमकाया साथ ही एसएमएस से भी धमकाया.

युवक ने महेश मांजरेकर का नम्बर एक वेबसाइट से पता किया था, जिस पर चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों के फोन नम्बर मौजूद रहते हैं.

राष्ट्रीय पुरस्कार जीत चुके फिल्मकार महेश मांजरेकर ने ‘वांटेड’, ‘दबंग’, ‘रेडी’ और ‘जय हो’ जैसी फिल्मों में काम किया है. इसके अलावा उन्होंने ‘वास्तव: द रियलिटी’,‘अस्तित्व’ और ‘विरूद्ध’ जैसी चर्चित फिल्मों का निर्देशन किया है.

मांजरेकर ने महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के टिकट पर 2014 में लोक सभा चुनाव लड़ा था.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें