Gujarat Exclusive > राजनीति > ममता बनर्जी ने किया ऐलान, प्राइवेट अस्पतालों में कोरोना के इलाज का खर्च उठाएगी सरकार

ममता बनर्जी ने किया ऐलान, प्राइवेट अस्पतालों में कोरोना के इलाज का खर्च उठाएगी सरकार

0
715

पश्चिम बंगाल सरकार ने प्राइवेट अस्पतालों से कोरोना वायरस के मरीजों का मुफ्त इलाज करने के निदेश दिए हैं. राज्य सरकार ने निजी अस्पतालों से कहा है कि वे कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों का इलाज करें और इसका पूरा खर्च राज्य सरकार वहन करेगी. बंगाल सरकार ने अस्पतालों को ये भी निदेश दिए हैं कि वह अपने यहां ये नोटिस भी चस्पा करें कि कोविड-19 (Covid-19) के मरीजों का इलाज मुफ्त में किया जाएगा.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक पश्चिम बंगाल में कोरोना वायरस के कुल 456 केस आए हैं जिसमें ससे 362 एक्टिव मामले हैं. राज्य में अब तक 799 लोग ठीक हुए हैं जबकि 15 लोगों की जान चली गई है.

राज्य के दौरे पर है केंद्रीय टीम

वहीं कोविड-19 से लड़ने में राज्य की तैयारियों को देखने के लिए केंद्र की दो टीम पश्चिम बंगाल के दौरे पर हैं. केंद्र की इस टीम ने कोलकाता के पास राजरहाट क्षेत्र स्थित एक पृथक केंद्र का दौरा किया, ताकि कोविड-19 की स्थिति का जायजा लिया जा सके.

कोलकाता में मौजूद अंतर मंत्रालयी टीम ने बुधवार को राज्य सरकार से इस बारे में विस्तृत ब्योरा मांगा कि राज्य में परीक्षण जांच का स्तर पर्याप्त है और क्या ऑक्सीजन, आईसीयू बिस्तर तथा वेंटीलेटर पर्याप्त संख्या में उपलब्ध हैं. इस संबंध में अधिकारी ने बताया कि राज्य की राजधानी में रक्षा मंत्रालय के वरिष्ठ नौकरशाह अपूर्ब चंद्र के नेतृत्व वाली केंद्रीय टीम ने उत्तरी 24 परगना में राजरहाट स्थित पृथक केंद्र का दौरा किया. उत्तर बंगाल में मौजूद दूसरी टीम को अभी क्षेत्रों का दौरा शुरू करना है.

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने राज्य में केंद्रीय टीम भेजने की निंदा की थी और आरोप लगाया था कि राज्य को खराब जांच किट भेजी गईं. कोरोना वायरस की स्थिति के आकलन के लिए राज्य में दो केंद्रीय टीम भेजने पर केंद्र और पश्चिम बंगाल सरकार के बीच वाकयुद्ध चला.

तालाबंदी में फंसे प्रवासी मजदूरों को लेकर, केंद्र सरकार की खामोशी दुर्भाग्यपूर्ण: भूपेश बघेल